Breaking News

आत्मदाह की धमकी, बैंक के स्थानांतरण के विरोध में राज्यकीय उच्च पथ 55 घंटो जाम !

बेगूसराय,आरिफ हुसैन- संवाददाता : पांच गांवों के ग्रामीणों ने एसबीआई पनहांस शाखा के स्थानांतरण के विरोध में चल रहे अपने चरणबद्ध आंदोलन की अगली कड़ी में वीर कुंवर सिंह चौक पर एसएच-55 को जाम करके आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन किया। इस मौके पर आयोजित सभा को संबोधित करते हुए जन अधिकार पार्टी नेता समीर चौहान और फ्रेंड्स ऑफ आनंद के जिलाध्यक्ष प्रदीप क्षत्रिय ने कहा कि यह बैंक आस-पास के पांच गांवों की लाइफ लाइन है। किसी खास व्यक्ति को व्यक्तिगत लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से इस बैंक का स्थानांतरण किया जा रहा है यह नाकाबिले बर्दाश्त है। इसके विरोध में हमलोग एक साल से आंदोलन कर रहे हैं। अगर बैंक का स्थानांतरण नहीं रोका गया तो हमलोग सामूहिक आत्मदाह करने को कृत संकल्पित हैं। किसी भी कीमत पर बैंक का स्थानांतरण हमलोग नहीं होने देंगे। सभा को संबोधित करते हुए वार्ड पार्षद परमानंद सिंह और मुरारी सिंह ने कहा कि एक तरफ सरकार नए बैंक खोलने की बात करती है। दूसरी तरफ 31 साल से स्थापित बैंक को साजिश के तहत दूसरी जगह स्थानांतरित किया जा रहा है। वहां बैंक खुले इस पर हम लोगों को कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन हम लोगों की शाखा को क्यों ले जाया जा रहा है। इससे महिलाओं को काफी असुविधा होगी। उन्हें तीन किलोमीटर बैंक के कार्य के लिए दूर जाना होगा। आस-पास के विद्यालयों के बच्चों के खाते इसी बैंक में है, उन्हें बहुत ज्यादा असुविधा का सामना करना पड़ेगा। कल क्षेत्रीय प्रबंधक के साथ हमारी मुलाकात सुनिश्चित हुई है। स्थानीय सांसद ने भी आश्वासन दिया है। अगर बैंक का स्थानांतरण रद्द नहीं किया गया तो हमलोग उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे। मौके पर प्रदीप कुमार, कुंदन सिंह, धनंजय कुमार, लालू कुमार, कामेश्वर सिंह, शिवेंद्र सिंह, जानकी देवी, मंजू देवी, रेखा देवी, शकुंतला देवी, शशिकांत सिंह, विकास कुमार, चुनचुन राम, मो. अब्बास, रामाशीष महतो सहित दर्जनों लोग और खाताधारक उपस्थित थे।

Check Also

मनु महाराज केन्द्रीय प्रतिनियुक्ति पर ITBP के नये डीआईजी, 7 IAS और 5 IPS का तबादला संजय सिंह बने स्वास्थ्य विभाग के विशेष सचिव

डेस्क : भारतीय प्रशासनिक सेवा के 7 अधिकारी बदले गए हैं। वहीं दूसरी सेवाओं से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *