Breaking News

आशिकी :: डीएसपी के दफ्तर में पति-पत्नी और वो का हाई वोल्टेज ड्रामा

दरभंगा : पति पत्नी और वो के चक्कर में घंटो D.S.P के दफ्तर में हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा अधिकारी समझाते रहे पर अपने प्यार में दीवानी लड़की कुछ भी समझने को तैयार नहीं थी बल्कि हर कुर्बानी देकर वह अपने प्रेमी के साथ ही रहने को आमदा है लड़की के सर प्यार का ऐसा भुत सवार था की वह अपने कलेजे के टुकड़े एक नन्ही सी बेटी और अपने पति को भी छोड़ने को तैयार हो गयी , ऐसे में पुलिस ने भी अपने हाथ खड़े कर दिए और सभी को अदालत भेज दिया ।
दरअसल पूरा मामला दरभंगा के बहादुरपुर थाना अंतर्गत हाऊसिंग कॉलोनी का है जहाँ काजल अपने एक स्कुल के साथी लड़के लालू को अपनी दिल दे बैठी , दोनों के बीच प्यार और परवान चढ़ा तो दोनों ने घर से भाग कर एक मंदिर में शादी भी कर ली पर काजल के घरवालों को रिस्ता मंजूर नहीं था ऐसे में काजल को परिवारवाले किसी तरह बहला फुसलाकर अपने साथ कर लिए और काजल की इच्छा के खिलाफ काजल की शादी दूसरे लड़के विनय के साथ एक मंदिर में 2012 में कर दी , देखते ही देखते शादी के तक़रीबन चार साल बीत गए इस बीच काजल ने एक बच्ची को भी जन्म दिया जिसकी उम्र लगभग ढाई वर्ष है लेकिन काजल शादी के इतने समय बीतने के बाद भी अपने प्रेमी लालू को नहीं भूल पाई वह लालू से नहीं मिल पाती लेकिन वक्त निकाल कर वह लालू से मोबाइल पर जरूर बात करती रही , लालू भी उसे उतना ही प्यार करता था इसलिए मौका मिलते ही काजल लालू के साथ एक बार फिर घर से भाग निकली और तक़रीबन तीन महीने बाद पुलिस के सामने तब चलकर आई जब काजल की ससुराल वाले काजल के भाग जाने की खबर थाने को दी ,
आज तीनो पक्ष के पूरा परिवार एक साथ Dsp के दफ्तर पंहुचा तो हर कोइ अपने अपने तरीके से कहानी सुनाया लेकिन हल कोइ नहीं निकला ,उलटे झगड़ा पति पत्नी और वो से निकल कर अपनी माँ – बेटी में ही उलझ गया माँ किसी भी सूरत में काजल को प्रेमी के साथ नहीं जाने देना चाहती थी तो बेटी ने माँ पर ही आरोप लगा दिया की उसकी शादी नहीं बल्कि उसको उसकी माँ ने विनय के हाथो पैसो के लिए बेच दिया , इधर दफ्तर में गरमागरम बहस चल रहा था उधर काजल की मासूम बेटी इन सब से अनजान चुपचाप खड़ी होकर सभी को निहार रही थी और शायद मन ही मन सबसे यह कह रही होगी की बताओ आखिर मेरा क्या कसूर ?
पति पत्नी और प्रेमी के रहने के झगडे से थोड़ी राहत मिलती नहीं थी की तुरंत छोटी बच्ची को रखने के लिए झगड़ा सुरु हो जाता बच्चे को कभी उसका बाप विनय गोद में उठाकर अपने पास रखता तो कभी काजल विनय से अपने बच्चे को छीन कर अपने पास रख लेती ।

एक तरफ काजल का प्रेमी लालू भी काजल को उसके बच्चे के साथ रखने को तैयार है तो काजल का पति विनय किसी भी सूरत में बच्चे को अपने पास रखना चाहता है ऐसी परिस्थिति में काजल बच्ची को विनय के साथ छोड़ कर ही सही वह अपने प्रेमी लालू के साथ रहना चाहती है लेकिन बच्चे पर अपना अधिकार भी जताती है

घंटो चले इस ड्रामे का अंत के लिए आखिरकार पुलिस ने सभी को दरभंगा कोर्ट भेज दिया जहा अदालत के फैसले को सभी को मानने को कहा लेकिन इस बीच चल रहे इस हाई वोल्टेज ड्रामे को देखने दफ्तर के प्रांगण में भी काफी भीड़ जमा हो गयी थी |

Check Also

फरीदिया हॉस्पिटल में डॉ अब्दुल हलीम डायलिसिस सेंटर का भव्य शुभारंभ, सम्मानित किए गए कोरोना Warriors

दरभंगा : सलफ़िआ यूनानी मेडिकल कॉलेज के अंतर्गत फ़रीदिया अस्पताल में गुरुवार को डॉ. सैयद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *