Breaking News

कृषि संकट के कारण किसान कर रहे हैं आत्महत्या

बेगूसराय,आरिफ हुसैन- संवाददाता : भाकपा माले के द्वितीय महासचिव स्व. जौहर की शहादत वर्षी पर कार्यालय में स्व. जौहर की तस्वीर पर माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित किया गया। दो मिनट की मौन श्रद्धांजलि के उपरांत उनके संघर्षों को याद किया गया। इस अवसर पर उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए भाकपा माले जिला सचिव दिवाकर कुमार ने कहा कि इंदिरा तानाशाही इमरजेंसी के दौरान 29 नवम्बर 1975 को अर्द्धसैनिक बलों से संघर्ष करते हुए का. जौहर, का. निर्मल और का. रतन की शहादत हुई। शहीदों की शहादत को याद करते हुए कहा कि सर्वहारा वर्ग की मुक्ति के संघर्ष में हमेशा प्रेरणा श्रोत बने रहेंगे। उन्होंने संकल्प लेते हुए कहा कि साम्प्रदायिक फासीवादी ताकतें पूरे देश में उत्पात और उन्माद की राजनीति को फैलाकर लोकतंत्र पर हमला कर रहा है। गरीबों, मजदूरों, किसानों की लाश पर कार्पारेट घरानों को लाभ पहुंचाने की नीतियां बनायी जा रही है। इसके खिलाफ में जुझारू संघर्ष तेज करने की आवश्यकता है। चन्द्रदेव वर्मा ने कहा देश में कृषि संकट गहराते जा रहा है जिसका परिणाम किसानों की आत्महत्या हो रही है। वहीं राज्य व केन्द्र सरकार गरीबों से जुड़े जनकल्याणकारी योजनाओं को समाप्त करने पर तुली हुई है। वहीं देश में असहिष्णुता का माहौल पैदा कर स्वतंत्रता की अभिव्यक्ति, जनता के लोकतांत्रिक अधिकारों पर फासीवादी हमला तेज हुआ है। वहीं बिहार में दलित, महादलितों की हत्या, बलात्कार की घटनाएं पर रोक लगाने के बदले नीतीश-मोदी की सरकार अपराधियों को संरक्षण दे रही है। मौके पर नगर सचिव राजेश श्रीवास्तव, रामरतनदेव झा, सुरेश पासवान, राजेन्द्र महतो, रामबालक पासवान, विनोद पासवान, मंजू देवी, कुंती देवी, अंजली देवी, सीताराम शर्मा सहित अन्य उपस्थित थे।

Check Also

दरभंगा कंकाली मंदिर के पुजारी की गोली मारकर हत्या, 3 अपराधियों की आक्रोशित लोगों ने की पिटाई एक की मौत 2 की हालत गंभीर एक भक्त भी गोली लगने से ज़ख्मी

राजू सिंह की रिपोर्ट दरभंगा : दुर्गापूजा के महानवमी की अहले सुबह दरभंगा में अपराधियों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *