Breaking News

बिहार :: इंडो-नेपाल बॉर्डर पर 1500 बोतल शराब जप्त, 4 गिरफ्तार

हरलाखी/मधुबनी : भारत नेपाल सीमा पर तैनात 48 वीं वाहिनी जयनगर के अधीन हरलाखी के गंगौर में स्थित एसएसबी कंपनी के जवानों व हरलाखी थाना की पुलिस ने अलग अलग स्थानों से कार्रवाई कर कुल 15 सौ बोतल नेपाली शराब के साथ चार तस्करों को गिरफ्तार कर लिया। जानकारी के मुताबिक गंगौर एसएसबी कंपनी अंतर्गत साहरघाट थाना इलाके के अखरहरघाट बीओपी के जवानों ने रात्रि गश्ती के दौरान गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई कर 9 सौ बोतल शराब के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार कर लिया। बीओपी इंचार्ज विजोय तरह के नेतृत्व में एसएसबी जवानों ने सीमा स्तंभ संख्या 53 के पास 50 मीटर भीतर भारतीय क्षेत्र में यह कार्ररवाई की है। गिरफ्तार तस्कर की पहचान साहरघाट थाना क्षेत्र के उतरा गांव के पिहवारा निवासी पंचु राम के रूप में बताए गए हैं। वहीं गंगौर एसएसबी कैम्प के जवानों ने भी 330 बोतल नेपाली शराब के साथ 1 तस्कर को गिरफ्तार कर लिया। तस्कर की पहचान हरलाखी थाना क्षेत्र के बरही गांव निवासी उदर मुखिया के रूप में बताए गए हैं। गंगौर एसएसबी कंपनी इंचार्ज मणिभूषण प्रकाश में बताया कि अखरहरघाट में 9 सौ बोतल के साथ गिरफ्तार तस्कर को साहरघाट थाना के हवाले कर दिया गया है जबकि गंगौर में 330 बोतल शराब के साथ गिरफ्तार तस्कर को हरलाखी थाना के हवाले किया गया है। वहीं हरलाखी थाना की पुलिस ने भी गुप्त सूचना के आधार पर मनोहरपुर गांव के ईंट भट्ठा वाले रोड में कार्रवाई कर 270 बोतल नेपाली शराब के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार कर लिया। जबकि मौके से दो तस्कर फरार हो गए। गिरफ्तार तस्कर की पहचान इसी थाना के बरही गांव निवासी कुसे मुखिया के रूप में बताई गई है। जबकि पुलिस ने इस कांड में गिरफ्तार तस्कर की निशानदेही पर दोनों फरार तस्कर उदगार मुखिया व बुधेश्वर मुखिया को भी नामजद कर लिया है। वहीं हरलाखी पुलिस ने इसी कार्रवाई के तहत पूर्व के कांड में फरार तस्कर बरही गांव के ही विनोद मुखिया को भी गिरफ्तार कर लिया। दोनों शराब तस्करी मामले में पहले भी जेल जा चुका है। थानाध्यक्ष संजय कुमार ने बताया कि जब्त शराब व गिरफ्तार तस्कर को न्यायिक प्रक्रिया हेतु मधुबनी जेल भेज दिया गया है।

Check Also

योगीता फाउंडेशन :: मन, वचन व कर्म में समानता रखने वाले गांधी व शास्त्री ने आत्मनिर्भर समाज का देखा था सपना- मनोज शर्मा

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट दरभंगा : राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का जीवन दर्शन एवं …

Leave a Reply

Your email address will not be published.