Breaking News

बिहार :: खरना का प्रसाद ग्रहण करने के साथ छठव्रतियों ने तोड़ा उपवास

बिहारशरीफ/राजगीर : लोक आस्था का महापर्व छठ के दूसरे दिन नालंदा जिला मुख्यालय बिहारशरीफ सहित पूरे जिले में आज छठव्रतियों ने खरना का प्रसाद ग्रहण किया। पूरे दिन उपवास पर रहकर शाम में छठव्रतियों ने पूरी शुद्धता के साथ खरना का प्रसाद तैयार किया और उसके बाद प्रसाद को ग्रहण कर उपवास तोड़ा। छठव्रती के प्रसाद ग्रहण करने के बाद पूरे परिवार सहित अपने इष्ट मित्रों को भी प्रसाद खिलवाया और छठी मईया से मनोकामना मांगी। खरना के प्रसाद में व्रतियो ने तालाब व नदी मे स्नान कर मिट्टी का बना हुआ चूल्हा का प्रयोग किया और प्रसाद बनाया। प्रसाद में गेहूं का रोटी, रसिया, अरवा चावल का लड्डू, शुद्धतापूर्व बनाया और शाम को छठव्रतियों द्वारा बनाया गया प्रसाद ग्रहण किया। छठ पर्व को लेकर पूरे दिन छठी मईया के गीत से पूरा जिला गूंजयमान हो गया। आस्था का महान केन्द्र बड़गांव में सामूहिक रूप से छठ पूजा को लेकर लोग एकत्रित हुये है और पूरा माहौल भक्तिमय हो गया। आज के दिन छठव्रती संध्या होते ही भगवान भास्कर का पूजा अर्चना कर प्रसाद ग्रहण कर उपवास तोड़ती है। इसके साथ ही प्रथम अघ्र्य की तैयारी में जुट जाते है। राजगीर में छठ पूजा को लेकर सूर्य कुण्ड में छठव्रती माताओं और उनके परिजनों का भारी भीड उमडता है। लोगों का भीड कुंड क्षेत्र में मेले सा दृश्य उत्पन करता है। इस भीड को नियंत्रित करने व्रतियों को हर परेशानी से बचाने और उनके सुविधा का ख्याल रखने के उददेश्य से अखिल भारतीय विधार्थी परिषद और एनएसयूआई के द्वारा यहां प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी सेवा शिविर, चिकित्सा शिविर और खोया पाया शिविर लगाया गया है। वहीं प्रशासन के द्वारा यहां चेजिंग रूम और सुरक्षा का पुख्ता इंतेजाम छठ घाटों पर किया गया है। सूर्य कुंड के अलावें यहां के पौराणिक वैतरणी घाट, झूनकी बाबा के तालाब, हसनपुर तालाब और सिथौरा जल मंिदर तालाब में छठव्रतियों के द्वारा अघ्र्य दिया जाता है। हसनपुर तालाब में हसनपुर गांव के लोगों के द्वारा साफ सफाई घाटों कि मरम्मति व बिजली पानी कि व्यवस्था किया गया है।

Check Also

हाजीपुर में सोना लूटकांड, महज 15 मिनट में करोड़ों की लूट CCTV का DVR भी लेकर फरार

सोना लूट कांड दोबारा इन हाजीपुर, देखें वीडियो… डेस्क : वैशाली जिले के हाजीपुर में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *