Breaking News

बिहार :: गोविन्द हरे, गोपाल हरे, जय शिव शंकर हरे, जय जय प्रभु लीला धाम हरे की जयकारा गूंजता रहा सिमरिया धाम

बीहट (बेगूसराय) : उत्तर वाहिनी गंगा की कलकल धारा पतित पावनी सिमरिया धाम का गंगा नदी तट पर गोविन्द हरे, गोपाल हरे के जयघोष से बुधवार की सुबह गूंजता रहा। पुलिस जवानों, पुलिस घुड़सवारों, बैंड बाजे के साथ, निर्वाणी, निर्मोही एवं दिगम्बर अखाड़ा के महंथ, संत, अखिल भारतीय सर्वमंगला अध्यात्म योग विधापीठ एवं सिद्धाश्रम मां काली धाम के अधिष्ठाता करपात्री अग्निहोत्री सन्त शिरोमणि स्वामी चिदात्मन जी महाराज की सानिध्य में सैकड़ो नागा संत एवं महिला नागा संत, कई अखाड़ों के साधु महात्मा, दंडी स्वामी साहित लाखों लाख महिलाओं व पुरुष ने कुंभ क्षेत्र का तृतीय शाही (पर्व) स्नान को लेकर सिद्धाश्रम मां काली धाम के ज्ञानमंच से राम घाट होते हुए रिंग बांध होते हुए महाकुम्भ कुम्भ ध्वजा एवं धर्म मंच के रास्ते मुख्य मार्ग सिमरिया धाम गंगातट में बने पर्णकुटीर का भ्रमण करते हुए उत्तर वाहिनी गंगा में पहले नागा संत, दंडी स्वामी एवं सर्व मंगला परिवार के संत, 56 पीठाधीश्वर के साथ लाखों लाख की संख्या में स्नानार्थि श्रद्धालुओं ने गंगा में एक साथ गोता लगाया। कुम्भ स्नान को लेकर मंगलवार से ही नेपाल देश सहित देश के विभिन्न प्रदेश एवं बिहार के विभिन्न जिलों से आदि एवं अनादिकाल कुम्भ स्थली, त्रिजंपद देश की संगम स्थली, सिमरिया धाम में लाखों श्रद्धालुओं का आना शुरू हो गया था। संतों की जुलूस में केन्द्रीय स्वस्थ्य राज्य मंत्री अश्वनी कुमार चौबे, बिहार सरकार में श्रम संसाधन मंत्री सह जिले के प्रभारी मंत्री विजय कुमार सिन्हा, एमएलसी रजनीश कुमार, फतेहा महंत राम सुमिरन दास, सूजा महंत शंकर दास, आचार्य धर्मदास जी महराज साहित लाखों धर्मप्राण माताएं एवं पुरुष ने श्रद्धा से तृतीय शाही कुंभ स्नान पर गंगा में डूबकी लगाये। जूना अग्नि अखाड़ा, निर्माणी अखाड़ा, निर्मोही अखाड़ा, उदासी अखाड़ा, मध्य प्रदेश मध्य मण्डल, श्री पंचनाम जूना अखाड़ा, जूना अखाड़े के नागा सन्त, दंडी स्वामी साहित कबीर अखाड़ा संतों ने शामिल होकर सिमरिया धाम की पावन धरती को धन धान्य किया। मौके पर रामदेव आश्रम, सुरेश आश्रम, देवेन्द्र आश्रम, दिनेश आश्रम, लक्षेस्वरा आश्रम, संकरा आश्रम, शम्भू आश्रम, दिगम्बर तोतापूरी जी महाराज, महंत श्री अर्जुन पूरी जी महाराज, संतोष पूरी जी महाराज, शंकर पूरी जी महाराज, विपिन पूरी जी महाराज, अवधेश पूरी, श्याम पूरी, देव पूरी, अभिमन्यू पूरी, तूलार्क पूरी, सुखराशी पूरी, शिवगिरी पूरी, रोहितनन्द सरस्वती, विक्रमानन्द सरस्वती, संतोष गिरी, उमा गिरी, त्रिजटा गिरी, किरण साध्वी, कृष्णा गिरी, भगवान गिरी, गिरिजा गिरी, सौहार्द गिरी, माही गिरी गंगानन्द ब्रह्मचारी, रविन्द्र ब्रह्माचारी जी, डा. घनश्याम झा, डा. नलिनी रंजन, भूमीपाल राय, प्रो पीके झा प्रेम, विनय झा, राजकिशोर सिंह, उषा रानी, मीडिया प्रभारी नीलमणि, सत्यानन्द, उमेशानन्द, श्याम किशोर सहाय, प्रभात झा, पटेल सिंह, नवीन सिंह, नृपेन्द्रानन्द जी, राजेश्वरानन्द, सुशील सिंह, दिनेश सिंह, हरिनाथ मिश्र, पदमनाभ झा, बब्लू सिंह, बाबू, संजयानन्द, संजय सिंह, गंगानन्द, सुलभ सिंह, कौशलेन्द्र सिंह, अमरेन्द्र सिंह, नृपेन्द्र राम, लक्ष्मण, श्याम सहित अन्य तृतीय शाही (पर्व) स्नान में भाग लिये।

Check Also

दो दिवसीय किसान मेला का आज हुआ समापन

दरभंगा, सुरेन्द्र चौपाल :- संयुक्त कृषि भवन, बहादुरपुर के प्रांगण में दो दिवसीय किसान मेला …

Leave a Reply

Your email address will not be published.