Breaking News

बिहार :: चीवरदान के साथ श्रीलंकाई बौद्धमठ में तीन दिवसीय कार्यक्रम संपन्न।

बोधगया।गया।महाबोधि सोसाईटी ऑफ इंडिया में आयोजित कठीन चीवरदान के साथ में तीन दिवसीय कार्यक्रम संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए करीब तीन हजार श्रीलंकाई श्रद्धालू व भिक्षु तथा देशभर में विस्तारित शाखाओं के प्रमुख भिक्षुओं ने भाग लिया। इसके साथ ही बोधगया में पर्यटन सीजन का आगाज हो गया। शनिवार को अहले सुबह भिक्षुओं तथा श्रद्धालूओं ने जयश्री महाविहार से महाबोधि महाविहार तक शोभा यात्रा की और पवित्र बोधिवृक्ष के पास पूजा की। पूजा उपरान्त श्रद्धालूओं को पवित्र जल एवं घागा प्रसाद स्वरूप भेट की गई। महाबोधि सोसाईटी के महासचिव भंते पी सीवली थेरो के मौजूदगी में बोधगया स्थित सभी बौद्ध मठों के प्रभुख भिक्षुओं को चीवर, दैनिक उपयोग की वस्तुएं तथा द्रव्य श्रद्धालूओं ने भेट किया। भिक्षुओं ने श्रद्धालूओं को अपने प्रति स्नेह के प्रति आभार व्यक्त करते हुए आशीर्वचन दिये। श्रीलंका के पीटा कोटे से आये श्रद्धालु प्रसन्था विमलसेना उनकी पत्नी श्रीमती सामंथी विमलसेना ने कार्यक्रम का वित्त संपोषण किया। श्रीलंकाई बौद्धमठ भिक्षु प्रभारी भंते सिद्धसित्था थेरो ने बताया कि वर्षावास पूजा के बाद प्रतिवर्ष कठीन चीवरदान समारोह आयोजित किये जाते है। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम में श्रीलंका के मुख्य संघनायक के मुख्य सचिव भी मौजूद थे। महाबोधि सोसाईटी बोधगया शाखा के पूर्व प्रभारी व संयुक्त सचिव भंते के मेदांकर थेरो आदि की सहभागिता रही। इस मौके पर महाबोधि मन्दिर के पुजारी भंते डा. मनोज तथा वटपा बौद्धमठ के प्रभारी भंते रत्नेश्वर चकमा सहित करीब डेढ़ सौ वर्षावास साधक भिक्षुओं को चीवर प्रदान किया गया। कार्यक्रम वित्त पोषक श्रीलंकाई नागरिक प्रसंथा विमलसेना द्वारा बोधगया स्थित सभी बौद्धमठों को एक-एक बुद्धपूजा के निमित चांदी के बर्तन तथा पानी गर्म करनेवाला इलेक्ट्रिक जार भेंट किया गया। चीवरदान के बाद सभी भिक्षुओं को संघदान कराया गया।

Check Also

WIT दरभंगा बने देश का पहला महिला आईआईटी, वैज्ञानिक डॉ. मानस बिहारी वर्मा को दें सच्ची श्रद्धाजंलि – पुष्पम प्रिया चौधरी

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट : डब्ल्यूआईटी को देश का पहला महिला आईआईटी के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *