Breaking News

बिहार :: छठ पर्व सुरक्षा के व्यापक इंतेजाम 15 सौ जवान होंगे जिले में तैनात।

गया।छठ को लेकर पुलिस प्रशासन की ओर से तैयारी पूरी कर ली गई है। छठव्रतियों को परेशानी न हो, इसे लेकर जिले में अर्घ्य पड़ने वाले सभी घाटों व तालाबों पर 15 सौ अतिरिक्त जवानों की तैनाती रहेगी। विधि व्यवस्था को बनाये रखने के लिए महिला पुलिसकर्मियों की भी तैनाती रहेगी। व्रतियों को आने-जाने में परेशानी न हो इसके लिए ट्रैफिक व्यवस्था की भी मुकम्मल तैयारी की गई है।गया एवं बोधगया के अंतर्गत आने वाले छठ घाटों व तालाबों को सेक्टर में बांट कर मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है। मजिस्ट्रेट के साथ एसआई रैंक के पदाधिकारी भी विधि व्यवस्था को बनाये रखने के लिए तैनात रहेंगे। सभी घाटों व तालाबों के आसपास सीआरपीएफ के जवान तैनात रहेंगे। इसके अलावा पब्लिक एनाउंसमेंट सिस्टम के माध्यम से छठव्रतियों को दिशा-निर्देश दिया जाता रहेगा।वही गया एसएसपी गरिमा मलिक ने बताया कि व्रतियों को पूर्ण सुरक्षा देने के लिए प्रमुख घाटों पर वॉच टावर के माध्यम से निगरानी की व्यवस्था की गई है। इनमें पितामहेश्वर घाट पर पांच व केन्दुई घाट पर चार वॉच टावर लगाये गए हैं। उन्होंने बताया कि सभी घाटों व तालाबों पर सादे लिबास में महिला व पुरुष जवानों की तैनाती भी की गई है।एसएसपी ने बताया कि छठ पर्व को लेकर ट्रैफिक व्यवस्था दुरुस्त रहेगी। गुरुवार की दोपहर बाद से रात दस बजे तक और शुक्रवार को तड़के तीन से रात दस बजे तक शहरी इलाके में बड़े वाहनों के प्रवेश पर पूर्णतरू रोक रहेगी। साथ ही शहरी इलाके में टावर चैक से जीबी रोड व रमना रोड में व्रतियों के वाहनों को छोड़कर सभी गाड़ियों के प्रवेश पर रोक रहेगी। इसके अलावा कोयरीबारी से विष्णुपद, चांद चैरा से विष्णुपद, माड़नपुर बाईपास की ओर से विष्णुपद के रास्ते जाने वाली सभी गाड़ियों का प्रवेश निषेध रहेगा। शहर से केन्दुई घाट जाने के लिए समाहरणालय, काशीनाथ मोड़, गेवाल बिगहा से शाहमीर तकिया, गोदावरी, घुघरीटांड का मार्ग होगा। यह मार्ग पूरी तरह वन-वे रहेगा। इसके अलावे सिकड़िया मोड़ होते ओटीए पांच नंबर गेट से घुघरीटांड़ होकर जाने का मार्ग भी रहेगा।पितामहेश्वर घाट जाने वाले व्रतियों के वाहनों का पड़ाव जिला स्कूल मैदान में रहेगा। वाहन स्कूल के पश्चिमी गेट से प्रवेश करेंगे। सूर्यकुंड, देवघाट आदि के लिए वाहनों का पड़ाव कॉलरा हॉस्पीटल और केन्दुई घाट के लिए पोलिटेक्निक, आईटीआई व सूर्य मंदिर के पहले खुले स्थान में वाहनों का ठहराव रहेगा। घुघरीटांड़ से बोधगया रिभर साइड रोड वन-वे रहेगा। अर्घ्य देने के बाद वाहन बोधगया राजापुर मोड़ से दोमुहान होकर शहर लौटेंगे।

Check Also

रसियारी पौनी पंचायत के वार्ड सदस्यों ने मुखिया के अलोकतांत्रिक क्रियाकलापों से खिन्न हो डीएम से लगाया गुहार

दरभंगा सुरेन्द्र चौपाल:- किरतपुर प्रखंड क्षेत्र रसियारी-पौनी पंचायत में पंचायती राज चुनाव 2021 के शपथ …

Leave a Reply

Your email address will not be published.