Breaking News

बिहार :: प्रसव के दौरान महिला की मौत, आक्रोशित ग्रामीणों का अस्पताल में जमकर हंगामा

मधुबनी-अंधराठाढ़ी (रमेश कर्ण) : स्थानीय रेफरल अस्पताल में प्रसव करने आयी एक महिला की मौत गुरुवार को हो गयी . महिला डेडुआ गाँव के सुरेश चौपाल की पत्नी रेणु देवी
है . मौत के वाद आक्रोशित ग्रामिणों ने अस्पताल में हो हंगामा किया और मौके पर उपस्थित चिकित्सक डॉ रामगोबिंद झा को अस्पताल के एक कमरे में बंद
कर दिया .अस्पताल के सभी कर्मी फरार है . खवर मिलते ही अंधरा ठाढ़ी और रुद्रपुर थाना पुलिस पहुंच कर बीच बचाव में जुट गयी है .प्रसव कराने आयी
महिला के परिजनों ने डयूटी पर तैनात चिकित्सक पर अनियमितता का आरोप लगाया है . चिकित्सक पर लापरवाही बरतने तथा हत्या के प्राथमिकी दर्ज करने की
मांग पर लोग धरना बैठ भी गये हैं . 

प्राप्त जानकारी के मुताविक बुधवार 13 सितम्बर को रात 10 बजे प्रसव हेतु महिला को भर्ती कराया था . उनके परिजनों का आरोप है की रेणु देवी पूर्ण स्वस्थ थी .समय  समय पर सभी तरह की जाँच होता था . जच्चा और बच्चा दोनों
स्वस्थ था .रेणु चौथी बच्ची की जन्म देने बाली थी . बुधबार की शाम अचानक प्रसव पीड़ा हुआ .तत्काल ही अस्पताल में भर्ती कराया गया . डयूटी में
तैनात चिकित्सक डॉ रामगोबिंद झा थे . पहले तो वे महिला चिकित्सक नही रहने का बहाना बनाया . फिर एएनएम् को देखने को कहे उनका आरोप है की डॉ काफी
आर्जू मिन्नत के बाद महिला को देखने प्रसव कक्ष गया . .उसे जबरन प्रसव करने का प्रयास किया . सुबह तक नोरमल डिलेवरी होने की बात कही  . सुबह
होते  होते उनकी मौत हो गयी . न तो जच्चा बच सका और न बच्चा . मौके पर पहुचकर अनुमंडल पदाधिकारी बिमल कुमार मंडल आरडीओ आलोक कुमार शर्मा ने
लोगो को समझा बुझा कर मामला को शांत कराया . मृतक के परिजन को तत्काल तीस हजार रूपये का चेक दिया गया और उन्हें उचित मुआवजा दिलाने का भरोषा दिया.मृत महिला को पोस्ट मार्टम कराने का निर्देश भी दिया . तब हो हंगामा शांत हुआ .

कहते है चिकित्सक

डॉ रामगोविंद झा पीड़ित महिला रेणु देवी सामान्य स्थिति
में थी . नौरमल डिलेभरी होने की पूरी सम्भावना थी . उसे रेफर करना उचित नही था . मौत कह के नही आती .उनके मौत पर उन्हें भी गहरा दुःख है .

Check Also

‘कुपोषण छोड़ पोषण की ओर-थामे क्षेत्रीय भोजन की डोर’, M K College में NSS की जागरूकता मुहिम

स्वर्णिम डेस्क : युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय भारत सरकार द्वारा प्रस्तावित पोषण माह, सितंबर, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *