Breaking News

बिहार :: प्रसूता की मौत के बाद फूटा गुस्सा, पुलिस को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, कार्रवाईन छीनी!

खोदाबन्दपुर (बेगूसराय)/आरिफ हुसैन संवाददाता : सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र खोदाबन्दपुर में जच्चा-बच्चा की मौत के बाद आक्रोशित भीड़ का गुस्सा पुलिस पर फूटा। इस क्रम में आक्रोशित भीड़ ने न सिर्फ पुलिस को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा बल्कि एक पुलिस जवान की कार्रवाईन भी छीन लिया। हालांकि बाद में छीनी गयी कार्रवाईन झाड़ी से बरामद कर ली गयी। प्राप्त समाचार के अनुसार खोदाबन्दपुर थाना क्षेत्र के दौलतपुर पंचायत के वार्ड संख्या पांच निवासी अशोक पासवान की 32 वर्षीया गर्भवती पत्नी पूनम देवी को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया था। जहां जच्चा-बच्चा की मौत हो गयी। जिसके बाद आक्रोशित परिजनों ने स्वास्थ्य केन्द्र के डाक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए मोकरी चौक के निकट राजकीय उच्च पथ-55 पर आगजनी करते हुए जाम कर दिया। जिससे बेगूसराय-रोसड़ा मुख्य पथ पर यातायात ठप हो गया। इधर दौलतपुर पंचायत के सैकड़ों आक्रोशित ग्रामीणों के द्वारा सड़क जाम कर प्रदर्शन करने की सूचना पर पहुंची पुलिस को आक्रोशित भीड़ ने अपना शिकार बनाया। पुलिस दल के साथ पहुंचे दारोगा सत्येन्द्र पासवान के साथ भीड़ ने नोंक-झोंक किया और फिर पुलिस पर पथराव व लाठी डंडे से हमला कर दिया। इस क्रम में कई पुलिस दौड़ते दिखे और भीड़ लाठी से प्रहार कर पुलिस को दौड़ाती दिखी। जिसमें एक पुलिस जवान के घायल होने की सूचना है। वहीं भीड़ में शामिल असमाजिक तत्वों द्वारा पुलिस की कार्रवाईन भी छीन ली गयी। प्रदर्शन कर रहे लोगों की मांग थी कि लापरवाह चिकित्सकों के विरूद्ध कार्रवाई की जाय साथ ही पीड़ित परिवार को मुआवजा मिले। घंटों रणक्षेत्र में तब्दील मोकरी चौक के हालात को नियंत्रित करने में पुलिस को काफी पसीना बहाना पड़ा। सड़क जाम की वजह से बेगूसराय-रोसड़ा पथ पर काफी संख्या में छोटी-बड़ी गाड़ियां खड़ी रही जिससे यात्रियों को परेशानी झेलनी पड़ी।

Check Also

युवा जदयू ने उपेन्द्र कुशवाहा का दरभंगा NH पर किया भव्य स्वागत

स्वर्णिम डेस्क : जदयू संसदीय बोर्ड के केन्द्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा का जनसंवाद यात्रा के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *