Breaking News

बिहार :: प्रारम्भिक शिक्षकों की गुरुगोष्ठी में कनीय और वरीय शिक्षकों का मुद्दा छाया रहा।

वजीरगंज (गया ) वजीरगंज प्रखंड के किसान भवन में मंगलवार को प्रखंड संसाधन केन्द्र स्थित ई-किसान भवन के प्रांगण में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी गायत्री कुमारी ने प्रखंड के सभी 165 प्राथमिक एवं मध्य विद्यालय के प्रधानाध्यापक एवं प्रभारी शिक्षकों के साथ मासिक गुरुगोष्ठी का आयोजन कर आवश्यक निर्देश दिये।गुरुगोष्ठी में शिक्षकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि शिक्षकों का पहला दायित्व है विद्यालय के बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देकर देश के भावी भविष्य के लिये समर्पित रहना ,ताकि आगे चलकर आपका नाम रौशन हो सके।इस गुरु गोष्ठी के दौरान कई विद्यालय के शिक्षकों के बीच कनीय एवं वरीय शिक्षकों का मुद्दा छाया रहा ।कई शिक्षकों के वरीय एवं कनीय का मामला स्पष्ट नही हो पाया ,जिसके कारण वरीय शिक्षक के विद्यालय में कनीय शिक्षक प्रभार में रहने के मुद्दे पर चर्चा करते हुए बीईओ मैडम ने कहा कि जिस विद्यालय में कनीय शिक्षक प्रभार में हैं ,अविलम्ब वरीय शिक्षक को प्रभार दें, प्रभार नही देने वाले कनीय शिक्षक के साथ-साथ प्रभार नहीँ लेने वाले वरीय शिक्षकों पर भी कड़ी कारवाई के साथ प्राथमिकी भी कराई जायेगी एवं जितने भी संकुल समन्वयक विद्यालय प्रभारी बने हुए हैं वे या तो प्रधानाध्यापक रहेंगे या संकुल समन्वयक ।दोनों पद सम्भालने वाले शिक्षक अविलम्ब एक पद से त्यागपत्र दें ।गुरुगोष्ठी में बीईओ ने शिक्षकों से मूल्यांकन प्रगति पत्रक अभिभावक के साथ छात्रों को वितरण करने ,सभी बच्चों के खाता को आधार से अवश्य जोड़ने ,सभी तरह का पंजी को संधारन करने ,बाल संसद एवं मीना मंच का गठन कर साप्ताहिक कार्यक्रम करने ,मध्याह्न भोजन में सप्ताह में एक दिन अंडा परोसने सहित मीनू के अनुसार एमडीएम बनाने ,टीईटी उत्तीर्ण शिक्षकों का प्रवेश पत्र एवं प्रमाण पत्र की प्रति जमा करवाने ,तीन बार दक्षता फेल शिक्षकों की सूची जमा करने सहित अन्य मुद्दों पर चर्चा कर दिये गये निर्देश का पालन करने का अनुरोध किया ।इस मौके पर बीआरपी अनिरुद्ध पासवान ,मनोज कुमार ,कमलेश कुमार सहित सभी विद्यालय प्रधानाध्यापक एवं प्रभारी शिक्षक मौजूद थे ।दूसरी तरफ प्रखंड के सभी टोला सेवक एवं तालीमी मरकज स्वयं सेवकों के साथ बैठक के बीइओ गायत्री कुमारी ने अपने विद्यालय के बच्चों को ससमय विद्यालय पहुँचाने सहित अपने विद्यालय एवं कर्तव्य के प्रति समर्पित रहने का निर्देश दिया।केआरपी कुसुम माथुरी ने बताया कि सभी टोला सेवकों को बाल विवाह ,दहेज उन्मूलन , स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड ,बच्चों को आधार कार्ड से जोड़ने का काम ,कला जत्था के नुक्कड़ नाटक से सम्बंधित कई निर्देश दिये गये ।इस मौके पर सभी टोला सेवक एवं तालीमी मरकज स्वयं सेवक मौजूद थे ।

Check Also

योगीता फाउंडेशन :: मन, वचन व कर्म में समानता रखने वाले गांधी व शास्त्री ने आत्मनिर्भर समाज का देखा था सपना- मनोज शर्मा

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट दरभंगा : राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का जीवन दर्शन एवं …

Leave a Reply

Your email address will not be published.