Breaking News

बिहार :: बच्चों को इंसानियत की पाठ पढ़ाने की जरूरत : डा० जमशेद

बेगूसराय, आरिफ हुसैन : मजहबी शिक्षा के साथ-साथ नयी पीढ़ी को अन्य शिक्षा का भी ज्ञान प्राप्त करने की आवश्यकता है। साथ ही सबसे पहले बच्चों को इंसानियत की पाठ पढ़ाने की जिम्मेदारी हम सभी की है। उक्त बातें उम्मीद वेलफेयर सोसाईटी के चेयरमेन सर्जन डा. जमशेद अहसन कैसर ने मंगलवार को न्यू कालनी पोखरिया स्थित दारे अरकम पब्लिक स्कूल में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि बच्चे भविष्य में शिक्षा प्राप्त कर डाक्टर, इंजिनियर बन सकते हैं लेकिन सबसे पहले उन्हें इंसान बनने की आवश्यकता है। अच्छा इंसान हर क्षेत्र में बेहतर कार्य करेगा। मौके पर समाजसेवी दिलीप कुमार सिन्हा ने कहा कि सबसे पहले बच्चों को अपने जिला की पूरी जानकारी होनी चाहिए। उसके बाद वह स्वयं मेहनत कर अन्य ज्ञान प्राप्त कर लेंगे। इस क्रम में उन्होंने बच्चों से सीधा संवाद किया और बच्चों से कई सवाल पूछे जिसका उपस्थित बच्चों ने बखूबी जवाब दिया। कार्यक्रम के दौरान स्कूल के छात्र-छात्राओं ने उर्दू व हिन्दी में न सिर्फ भाषण दिया बल्कि देश को जोड़ने वाले कई गीत पेश की। मौके पर चिकित्सक डा. शौकत अली, डा. जाबेद, डा. निशांत, आईएमए सचिव डा. राजेश कुमार, राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित मुफ्ती खालिद हुसैन नेमवी कासमी, मुफ्ती ऐनुल हक अमीनी कासमी, मौलाना साबिर नेमाजी, नैसेरवां आदिल, निरंजन कुमार सिन्हा, आरिफ हुसैन, संजीत कुमारी श्रीवास्तव सहित अन्य उपस्थित थे।

Check Also

WIT दरभंगा बने देश का पहला महिला आईआईटी, वैज्ञानिक डॉ. मानस बिहारी वर्मा को दें सच्ची श्रद्धाजंलि – पुष्पम प्रिया चौधरी

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट : डब्ल्यूआईटी को देश का पहला महिला आईआईटी के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *