Breaking News

बिहार :: मानव श्रृंखला निर्माण की तैयारी को लेकर दिशा निर्देश जारी!

बिहारशरीफ। बिहार मे एक बार पुनः राज्यव्यापी मानव श्रृंखला का निर्माण किया जा रहा है। उसकी प्रशासनिक तैयारी शुरू कर दी गई है। यह मानव श्रृंखला बाल विवाह एव ंदहेज उन्मूलन को लेकर अगले वर्ष 2018 मे 21 जनवरी को किया जायेगा। गुप्त सूचना के अनुसार पिछले साल 21 जनवरी को शराबबंदी के समर्थन मे बनाये गये मानव श्रृंखला का रिकॉर्ड तोड़ने की कोशिश जारी है। इस संबंध मे जिलाधिकारी डॉ त्यागराजन एसएम ने बताया कि बिहार सरकार के दिशा निर्देशों के अनुसार पिछले बार के निर्मित मानव श्रृंखला के रूट निर्धारण मे इस बार के रूट निर्धारण मे भारी बदलाब किया गया है। श्री त्यागराजन ने बताया कि बिगत वर्ष राज्य स्तर से मुख्य मार्ग का निर्धारण किया गया था और सब रूट जिला द्वारा निर्धारित किया गया था। जबकि इस बार व्यवस्था को बदलते हुए जिला को अपनी सुविधा और आबादी के हिसाब से मार्ग (मेन रूट व सब रूट) निर्धारित करना होगा। मानव श्रृंखला सभी प्रखंडों को जोड़ते हुए नजदीक के जिले मे निर्धारित स्थान पर जुड़ेगी। इस वर्ष की मानव श्रृंखला मे सम्पूर्ण राष्टीय मार्ग एवं राज्य मार्ग मे श्रृंखला निर्माण की बाध्यता नही है। इस संबंध मे जिला प्रशासन से रूट चार्ट का नक्शा, उसकी दूरी एवं विवरणी तैयार करके 20 दिसम्बर तक जन शिक्षा निदेशालय को ईमेल द्वारा भेजने को कहा गया है। पिछले श्रृंखला की लंबाई मे 5 प्रतिशत की वृद्धि करने एवं सड़क के एक ओर एक कतार मे श्रृंखला निर्माण कराने को कहा गया है ताकि अनिवार्य सेवाएं बाधित न हो। श्री त्यागराजन ने बताया कि यह मानव श्रृंखला 21 जनवरी को सिर्फ आधे घंटे के लिए दिन के दोपहर 12 बजे से 12.30 बजे तक बनायी जायेगी। श्रृंखला को सफल बनाने के लिए प्रतिभागी को 11. 45 बजे तक निर्धारित स्थल पर उपस्थिति दर्ज कराना होगा। उनहोने बताया कि जिला स्तर पर यह कार्य योजना बनाने एवं सम्पन्न कराने की जिम्मेवारी जिला पदाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक की होगी।
श्रृंखला मे शामिल होंने वाले लोग
21जनवरी को बनने वाली मानव श्रृंखला मे जिला स्तर के सभी सरकारी कर्मचारी, संविदा कर्मी, सरकारी एवं गैर सरकारी विद्यालय, उच्च विद्यालय, उच्चतर विद्यालय, महाविद्यालय, मदरसा, संस्कृत विद्यालय के शिक्षक कर्मी, आशा दीदी, सेविका, सहायिका एवं छात्र छात्राएं शामिल होंगे। इनके अलावे जीविका एवं साक्षरता से जुडे़ कर्मी, जनप्रतिनिधियों के साथ महिला पुरूष शामिल होगें। श्रृंखला मे एक से पांच तक के बच्चों को शामिल नही किया जायेगा। क्लास 06 से उपर के बच्चे शामिल होगें। बच्चों को शामिल होने के लिए किसी प्रकार की दबाब नहीं दिया जायेगा।
सफलता के लिए तैयारी
श्रृंखला मे अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी के लिए जिला से पंचायत स्तर तक बैठक, जन सम्पर्क, वाल राइटिंग किया जायेगा। इसकी सफलता के लिए माइक्रोप्लानिंग व व्यापक प्रचार प्रसार एवं नवाचार के लिए जिला स्तर पर व्यवस्था किया जायेगा। इसके लिए दो सौ मीटर पर एक प्रभारी समन्वयक और एक किलोमीटर पर एक सेक्टर इंचार्ज बनाने, प्रखंड स्तर पर सेक्टर, जोन, सुपर जोन मे बांटकर किया जायेगा।

Check Also

DMCH डाटा इंट्री कर्मचारियों को 4 माह से वेतन भुगतान नहीं, अस्पताल प्रबंधन की संवेदनहीनता – C.I.T.U.

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट : दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल के विभिन्न वार्डों, रजिस्ट्रेशन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *