Breaking News

बिहार :: विरोधी दलों ने नोटबंदी के खिलाफ मनाया काला दिवस

बेगूसराय : राजद, सपा, एनसीपी व शरद गुट के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को नोटबंदी के एक साल पूरा होने पर काला दिवस के रूप में विरोध मार्च निकाला। सभी विपक्षी दलों के नेताओं ने सामूहिक जुलूस ट्राफिक चौक से होते हुए कैंटिन चौक के दक्षिणी द्वार पर पहुंचे जहां जलूस सभा में तब्दील हो गया। मौके पर पूर्व मंत्री श्रीनारायण यादव ने कहा कि मोदी सरकार तानाशाही व गरीब विरोधी सरकार है। जिसने देश को सौ वर्ष पीछे ढ़केलने का काम किया है। उन्होंने कहा कि यह सरकार जीएसटी लगाकर आम आदमी की जिंदगी जीने के अधिकार को भी छिन रहा है। बखरी विधायक उपेन्द्र पासवान ने कहा कि नोटबंदी के कारण काला धन तो वापस आया नहीं बल्कि नोटों की छपाई पर करीब 11 हजार करोड़ रूपये जनता की गाढ़ी कमाई के पैसे को बर्बाद किये गये। रामबदन दाय ने कहा कि यह सरकार की असंवेदनशीलता की पराकाष्टा का प्रमाण है कि बैंकों से अपना पैसा पाने के लिए लोगों को लंबी कतारों में लगना पड़ा जिसमें सैकड़ों लोगों की जानें गवांनी पड़ी। वहीं प्रदेश प्रवक्ता उर्मिला ठाकुर ने कहा कि नोटबंदी के एक वर्ष पूरा होने पर जनता सरकार से पूछना चाहती है कि काले धन कहां गया। राजद जिलाध्यक्ष प्रो. अशोक कुमार यादव ने कहा कि इस नोटबंदी के कारण देश के गरीब जनमानस के आर्थिक विक्षमताओं और उनकी परेशानियों से मोदी सरकार का कोई लेना-देना नहीं है। यह फैसला न तो भारतीय अर्थव्यवस्था के पक्ष था और ही आम जनता के पक्ष में। उन्होंने जीएसटी के दुष्परिणाम के बारे में बताया कि इसके कारण छोटे एवं मंझले व्यापारियों का व्यापार करना दुर्लभ हो गया है। मौके पर मीडिया प्रभारी विवेक कुमार ने कहा कि तानाशाही सरकार ने नोटबंदी करके देश के 130 करोड़ जनता के साथ अत्याचार किया था। इस नोटबंदी के कारण 582 लोगों की मौत अपने खून-पसीने से कमाये गये पैसों को बैंक में जमा करने के दौरान हो गयी थी। देश में गरीबी और बेरोजगारी की बाढ़ आ गयी है। इस अवसर पर पूर्व विधायक रामचन्द्र सिंह निषाद, अशोक पासवान, वाल्मीकि महतो, अखिल भारतीय यादव महासभा के जिलाध्यक्ष शचिन्द्र प्रताप सिंह, रामसखा महतो, सूर्यकांत सिंह, रामभूषण सिंह, सूधीर सिंह, मो. कासिम, सर्वेश यादव, अरविंद यादव, संजय सुमन, अमित, कांग्रेस जिलाध्यक्ष अर्जुन सिंह, सार्जन सिंह, शांति स्वामी, महेश सिंह, मिथलेश मिश्र, ब्रजेश कुमार प्रिंस, समाजवादी नेता दिलीप केशरी, राकपा जितेन्द्र, गौरव कुमार, शरद गुट के राजवंशी, जिलाध्यक्ष अनिता सिंह, धमेन्द्र राय, महादेव सा, मुजिबुर्रहमान, अरूण यादव, मुखिया संघ अध्यक्ष सुबोध यादव, युवा प्रखंड अध्यक्ष संतोष कुमार, निरज, विरेन्द्र यादव, मो. नौशाद, बलराम निषाद, रामविलास यादव, सोहन यादव, फैजूर रहमान, प्रमोद कुशवाहा, सुनील यादव, रौशन ठाकुर, दुलारचन्द्र सहनी, मुखी भगत, अजय चन्द्रवंशी, पूनम देवी, नसीम अख्तर, शंभू महतो, अर्जुन यादव, रंधीर कुमार वर्मा, विजय राय सहित काफी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे। वहीं दूसरी ओर वामदलों के राष्ट्रव्यापी विरोध दिवस पर माले कार्यालय से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पुतला के साथ संयुक्त वामदलों का मार्च निकाला गया। कैंटिन चौक पहुंचकर पुतला दहन कर नुक्कड़ सभा की गयी। मौके पर सभा को जिला सचिव दिवाकर कुमार, माकपा के राज्य सचिव मंडल सदस्य व पूर्व विधायक राजेन्द्र सिंह, भाकपा के अनिल कुमार अंजान, एसयूसीआई के धर्मेन्द्र कुमार समेत अन्य नेताओं ने संबोधित किया। कहा नोटबंदी की तबाही से देश में सैकड़ों किसान, मजदूर, व्यापारियों को अपनी जान गवांनी पड़ी। वहीं विदेश में जमा काला धन को लाने में मोदी सरकार विफल रही। इस अवसर पर खेग्रामस जिला सचिव चन्द्रदेव वर्मा, बौजू सिंह, दीपक सिन्हा, राजेश श्रीवास्तव, अमरजीत पासवान, राजेन्द्र चौधरी, रामागर सिंह, दयानीधि चौधरी, रत्नेश्वर ठाकुर, आइसा नेता वतन कुमार, रंजीत सिंह आदि मौजूद थे। वहीं जिला कांग्रेस कमिटी ने भी नोटबंदी के विरोध में काला दिवस मनाया। जिसमें वक्ताओं ने कहा कि केन्द्र सरकार के जनविरोधी नोटबंदी कानून के कारण देश की जनता तबाह हो रही है। उद्योग धंधा चौपट हो गई। किसान परेशान है। मौके पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष अर्जुन सिंह, प्रदेश कांग्रेस कमिटी के प्रवेक्षक गुरजीत सिंह, शमशू जोहा, शांति स्वामी, डा. रजनीश कुमार, रामस्वरूप पासवान आदि मौजूद थे। वहीं दूसरी ओर जिला संयोजक वीरेन्द्र कुमार साहू आम आदमी पार्टी के नेतृत्व में मोदी सरकार का पुतला दहन किया गया। मौके पर आरएन सिंह, छात्र नेता अभिषेक जयसवाल, युवा नेता जितेन्द्र दास, महिला नेत्री शोभा देवी, सुनीता देवी, गिरीश महतो, विनोद प्रसाद, मनोज कुमार, शशि ठाकुर, राजेश झा, सुरेश कुमार, तनवीर हसन, साकेत कुमार, मनोज दास, ध्रुव दास, श्याम सुंदर दास आदि मौजूद थे। वहीं दूसरी ओर बुधवार को ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन बेगूसराय जिला परिषद के साथ अन्य वामपंथियों ने नोटबंदी के एक साल पूरे होने पर काला दिवस मनाया। इससे पहले छात्रों का क्रांतिकारी जत्था पटेल चौक स्थित जिला कार्यालय से जिला अध्यक्ष सजग सिंह के नेतृत्व में नरेंद्र मोदी के पुतले एवं झंडा बैनर लेकर सिर पर काली पट्टी बांधकर जुलूस की शक्ल में नोटबंदी एक बहाना था काला धन छिपाना था, जीएसटी एक बहाना है, पूंजीपतियों में इजाफा लाना है, नरेंद्र मोदी मुर्दाबाद, आज है काला दिवस नोटबंदी ने किया हमें विवश जैसे गगनभेदी नारे लगाते हुए पटेल चौक से निकलकर मेन मार्केट होते हुए कैंटीन चौक पहुंचकर सभा में तब्दील हो गया। मौके पर आक्रोशित छात्रों, जवानों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया। मौके पर सभा को संबोधित करते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष अमीन हमजा ने कहा कि आज नोटबंदी का एक साल हो गया। नोटबंदी के दौरान जो लोगों की मौत हुई घटनाएं घटी गरीब मजदूरों को जो झेलना पड़ा उसकी खुशी में आज मोदी के लोग देश में जश्न मना रहा है। उन्हें शर्म आने के बजाय उन्हें जश्न सूझ रहा है जो काफी निंदनीय है। आज हमारा संगठन इन बेशर्मों के खिलाफ काला दिवस मना रहा है। एआईएसएफ के जिला अध्यक्ष सजग सिंह ने कहा कि काला धन मंगाने के नाम पर नोटबंदी तो किया लेकिन इसमें ना काला धन आया और ना ही गरीब जनता को 15,00,000 रुपए मिले यह सरकार पूरी तरह नौटंकी एवं ठगों की सरकार है जो पूरी तरह पूंजीपतियों के इशारे पर चलने का काम कर रहा है इसके बरसी पर हमारा संगठन आज काला दिवस मना रहा है। जिला सचिव रूपक कुमार ने कहा कि नौजवानों से किए गए रोजगार के वादे पूरी तरह से मोदी का खोखला साबित हो रहा है। रोजगार तो दिया नहीं नोटबंदी करके जीएसटी लागू कर छोटे-छोटे स्वरोजगार करने वालों का रोजगार छीनने का काम नरेंद्र मोदी ने किया जिसे नौजवानों को कभी बर्दाश्त नहीं होगा और मोदी के खिलाफ अपना संघर्ष जारी रखेगा। एआईएसएफ के जिला सचिव किशोर ने कहा मोदी एक टेक्स कर के छोटे-छोटे रोजगारों को लूटा लेकिन समान शिक्षा प्रणाली लागू नहीं किया, समान शिक्षा प्रणाली के लिए हमारा संगठन अपना संघर्ष जारी रखेगा। मौके पर जिला उपाध्यक्ष राकेश कुमार, शंभू देवा, सह सचिव सदरे आलम खान, तंजीम इंसाफ के जिला सचिव नूर आलम खान, भवानी यादव, अमृत कुमार, एआईवाईएफ के जिला कोषाध्यक्ष इरशाद आलम खान, शाहरुख खान, आरजू, अभिनव, काशिफ, रामगर सिंह, विक्रम, ऋषभ कुमार, राम कल्याण सिंह, इरशाद खान, विक्रम, एआईएसएफ के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य राम नरेश महतो आदि मौजूद थे।

Check Also

हाजीपुर में सोना लूटकांड, महज 15 मिनट में करोड़ों की लूट CCTV का DVR भी लेकर फरार

सोना लूट कांड दोबारा इन हाजीपुर, देखें वीडियो… डेस्क : वैशाली जिले के हाजीपुर में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *