Breaking News

बिहार :: सच बात कहने पर मुझे राष्ट्रद्रोही कहा जा रहा है – सांसद

नावकोठी (बेगूसराय) : पूरा अनुमंडल क्षेत्र कभी लाल धरती कहलाता था। भारत का लेनिन ग्राद कहलाने वाला इस क्षेत्र में कई तरह के सामाजिक उत्पीड़न के आर्थिक विषमता के असहिष्णुता के विरुद्ध बडे़-बडे़ आंदोलन किये गये। पर वैचारिक भटकाव के कारण पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच भी भटकाव से इनकार नहीं किया जा सकता है। भारतीय दंड संहिता के धारा 124 ए अंग्रेजो द्वारा बनाया गया काला कानून है जो किसी व्यक्ति पर राजद्रोह का आरोप गठित कर उस पर राजद्रोह का मुकदमा दायर किया जा सकता है। आजादी के सात दशक बाद भी इस अधिनियम का इस्तेमाल करने की खुली छूट राजसत्ता को प्राप्त है। जो मौलिक अधिकार का हनन है। उक्त बातें पूर्व सांसद शत्रुघ्न प्रसाद सिंह ने हसनपुर बागर में आयोजित वयोवृद्ध भाकपा नेता रामाकान्त सिंह के द्वादशा कर्म पर आयोजित श्रद्धांजली सभा में कहीं। उन्होंने कहा कि भारतीय दंड संहिता के धारा 19 जो मौलिक अधिकार का हनन करती है उसके खात्मा के लिए किया गया संघर्ष ही मृतक के प्रति सच्ची श्रद्धांजली होगी और इसे ही सच्ची देशभक्ति कही जा सकती है। इसके पहले सांसद डा. भोला सिंह ने पूर्व के संस्मरण को ताजा करते हुए कहा कि मैं किसी भी राजनीतिक दल में रहूंगा पर मेरा संस्कार कम्युनिस्ट चिंतन ही है। कन्हैया जिसे सभी न्यायालय ने क्लीन चीट दे दिया हो उसे हम किस आधार पर राष्ट्रद्रोही करार दे सकते हैं। ऐसा कहने पर मुर्दाबाद के नारे लगाकर कर मुझे ही राष्ट्रदोही करार कर अंध देशभक्ति की जा रही है। सभा को जिला मंत्री गणेश सिंह, एटक के प्रह्लाद सिंह, अनिल कुमार अंजान, सूर्यकान्त पासवान, जितेन्द्र जीतू, गणेश पोद्दार, पूर्व विधायक रामविनोद पासवान आदि ने संबोधित किया। अध्यक्षता गणेश महतो तथा संचालन चन्द्रभूषण चौधरी ने किया।

Check Also

DMCH डाटा इंट्री कर्मचारियों को 4 माह से वेतन भुगतान नहीं, अस्पताल प्रबंधन की संवेदनहीनता – C.I.T.U.

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट : दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल के विभिन्न वार्डों, रजिस्ट्रेशन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *