Breaking News

बिहार :: सत्संग पुरूषार्थ से नहीं बड़े भाग्य से मिलता है : सुधीर जी महाराज

बीहट (बेगूसराय)/धर्मवीर कुमार संवाददाता : सत्संग पुरूषार्थ से नहीं बड़े भाग्य से मिलता है और भगवान के प्रसाद से मिलता है। उक्त बातें शनिवार को कुंभ सेवा समिति के द्वारा धर्म मंच पर प्रारंभ हुए राम कथा अमृत वर्षा के प्रथम दिन प्रवचन करते हुए कथा वाचक सुधीर जी महाराज ने कही। उन्होंने कहा, सत्संग दुर्लभ है। बिना प्रयास से भव सागर पार करने का सबसे सरल तरीका सत्संग की कथा है। तभी तो राम कथा जीवन के व्यथा को दूर करने का सरल साधन है। राम कथा का एक बुंद सुन लेने से सारे जन्मों का पाप धुल जाता है। कहा मोह अगर दूर होगा तो राम कथा से ही। राम कथा प्रारंभ होने के पूर्व कुंभ सेवा समिति के अध्यक्ष डा. नलिनी रंजन सिंह, संयोजक संजय कुमार, महासचिव रजनीश कुमार ने चादर व माला पहनाकर उनका भव्य स्वागत किया। राम कथा अमृत वर्षा नौ दिनों तक निरंतर जारी रहेगा। मौके पर कुंभ सेवा समिति के सचिव रामाशीष सिंह, विकास कुमार, उमेश मिश्रा सहित अन्य मौजूद थे।

Check Also

दरभंगा कंकाली मंदिर के पुजारी की गोली मारकर हत्या, 3 अपराधियों की आक्रोशित लोगों ने की पिटाई एक की मौत 2 की हालत गंभीर एक भक्त भी गोली लगने से ज़ख्मी

राजू सिंह की रिपोर्ट दरभंगा : दुर्गापूजा के महानवमी की अहले सुबह दरभंगा में अपराधियों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *