Breaking News

बिहार :: सरदार पटेल ने लायी थी रक्तहीन क्रांति : कौशलेंद्र

 


बिहारशरीफ। लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल की 142वीं जयंती समारोह नालंदा में धूमधाम से मनायी जायेगी। बिहारशरीफ के श्रम कल्याण केंद्र के मैदान में 31 अक्टूबर को सरदार पटेल विचार मंच के तत्वावधान में आयोजित होने वाले समारोह की तैयारी जोर शोर से की जा रही है। समारोह को लेकर आयोजित संवाददाता सम्मेलन में पूर्व प्रत्याशी, भाजपा नेता व आयोजन समिति के सदस्य कौशलेंद्र कुमार उर्फ छोटे मुखिया ने बताया कि सरदार पटेल एक कर्मठ व्यक्तित्व के थें। उन्होने 562 रियासतों का रक्तहीन क्रांति के माध्यम से विलय कराने का काम किया था। उन्हें 3 उपाधि से नवाजा गया था, किसानों ने जहॉ उन्हें सरदार की उपाधि दी थी, वहीं रियासतों के विलय के कारण उन्हें राष्ट्र निर्माता की उपाधि मिली। उनके निर्णय लेने की अद्भूत क्षमता ने लौह पुरूष की संज्ञा दिलायी। उन्होने कहा कि सरदार पटेल ने देश के लिए जो किया इसके लिए उन्हें देश के शीर्षस्थ पद पर बैठने के हकदार थें लेकिन राजनैतिक शिकार हुये। इस अवसर पर आयोजन समिति के सदस्य जदयू प्रवक्ता संजयकांत सिन्हा ने कहा कि सरदार पटेल ने अखंड़ भारत को खंडित होने से बचाया। उन्होने सामाजिक कुरीतियों को दूर करने का काम किया। आज युवाओं को उनसे प्रेरणा लेने की जरूरत है। उनके बताये मार्ग पर चल कर देश को आगे ले जाने का काम करना होगा। इस अवसर पर आयोजन समिति के सदस्य भाजपा नेता अविनाश मुखिया ने बताया कि कार्यक्रम को लेकर सारी तैयारियां पूरी कर ली गयी है। कार्यक्र्रम में करीब पचास हजार लोगों के शिरकत करने का अनुमान है। कार्यक्रम में भाग लेने के लिए पूरे नालंदा जिला में भ्रमण कर लोगों को जानकारी दी गयी है। इस कार्यक्रम के माध्यम से लोगों को संदेश देने की कोशिश की जायेगी कि सरदार पटेल ने देश को एकसूत्र में बांधने में कामयाब हो सके। भाजपा नेता अनिरूद्ध कुमार ने बताया कि कार्यक्रम को लेकर किसी तरह का कोई कोर कसर न हो इसके लिए पूरी व्यवस्था की गयी है ताकि कार्यक्रम एतिहासिक हो सके। इस अवसर पर अरविन्द कुमार, मुकेश कुमार, प्रदीप मुखिया, विनोद कुमार सिंह, देवन प्रसाद के अलावा अन्य लोग मौजूद थें।

 

Check Also

हाजीपुर में सोना लूटकांड, महज 15 मिनट में करोड़ों की लूट CCTV का DVR भी लेकर फरार

सोना लूट कांड दोबारा इन हाजीपुर, देखें वीडियो… डेस्क : वैशाली जिले के हाजीपुर में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *