Breaking News

भाई-बहन की संदिग्ध परिस्थिति में मौत, फांसी पर लटकी मिली नेहा !

  • घर के दरवाजे पर खून से लथपथ मिला आयूष
  • घटना नारायण पीपर पंचायत की, मौके पर पहुंची पुलिस, कर रहे हैं छानबीन
  • परिजन व ग्रामीण पोस्टमार्टम कराने से कर रहे इंकारछौड़ाही (बेगूसराय)/विनोद कुमार शर्मा -संवाददाता : छौड़ाही थाना क्षेत्र के नारायणपीपर पंचायत के सोनापुर गांव में चचेरे भाई बहन की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार नारायण पीपर के सोनापुर टोला निवासी शिव कुमार सहनी के 15 वर्षीय पुत्री नेहा कुमारी अपने घर के अंदर फांसी पर लटकी मिली। परिजनों ने बताया कि मृतका नेहा मानसिक रुप से बीमार थी। आज दोपहर बहुत देर तक घर से बाहर नहीं निकलने पर जब दरवाजा खोलकर अंदर परिजनों ने देखा तो पंखे में अपने दुपट्टा को बांध गले में फसरी लगा झूलती हुई पाई गई। आनन-फानन में परिजनों ने फांसी पर झूल रही नेहा को नीचे उतारा। ग्रामीण चिकित्सकों ने जांच कर नेहा को मृत घोषित कर दिया। इसी बीच मृतका नेहा के चाचा सुनील कुमार सहनी का एक वर्षीय पुत्र आयुष कुमार संदेहास्पद परिस्थिति में घर के दरवाजे पर खून से लथपथ पड़ा था। जिसकी ईलाज के क्रम में मौत हो गई। एक साथ दो मौत से परिजन बदहवास हो गए। मृतका नेहा की मां गिरजा देवी ने बताया कि मेरी पुत्री मानसिक रुप से बीमार थी। अवसाद में आकर उसने इस तरह का कदम उठाया है। वहीं अपने देवर के पुत्र के मौत के संबंध में गिरजा देवी ने बताया कि नेहा के मौत से घर में अफरा-तफरी मची थी। इसी बीच बच्चा दरवाजे पर से नीचे गिर गया। जिस कारण उसकी मौत हो गई है। वहीं ग्रामीणों में दोनों मौत को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं चल रही थी। ग्रामीण बिना पोस्टमार्टम के शवों को प्रतिनिधियों एवं परिजनों के दवाब में अंतिम संस्कार किए जाने की गतिविधि को भी संदेह की दृष्टि से देख रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि पोस्टमार्टम के बाद ही मौत की असली कारणों का पता चल सकता है। दूसरी तरफ परिवार में एक साथ दो सदस्यों की मौत से परिजनों का रो-रो कर बूरा हाल था। माता गिरजा देवी रो-रो कर बार-बार बेहोश हो जा रही थी। दूसरी तरफ घटना की सूचना मिलते ही छौड़ाही ओपी के एसआई आरएन मिश्रा पुलिस वलों के साथ मौके वारदात पर पहुंचे एवं घटना की जांच पड़ताल प्रारंभ कर दी है। समाचार प्रेषण तक दोनों शव घर पर ही पड़ा हुआ था। पुलिस परिजनों से शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने का मनुहार कर रही थी। लेकिन परिजन बिना पोस्टमार्टम करवाए शवों को अंतिम संस्कार करने पर अड़े हुए थे। इस संदर्भ में ओपी अध्यक्ष सिंटू कुमार झा ने बताया कि शव के पोस्टमार्टम कराने का काफी प्रयास हम लोग कर रहे हैं। परिजन एवं गांव के मुखिया, सरपंच आदि शव को पोस्टमार्टम नहीं कराने के लिए लिखित रुप से दे रहे हैं। वरीय अधिकारी का दिशा निर्देश मांगा गया है। जैसा दिशा निर्देश मिलेगा वैसा कार्रवाई की जाएगी। कहा दोनों मौत की छानबीन प्रारंभ कर दिया गया है।

Check Also

दरभंगा कंकाली मंदिर के पुजारी की गोली मारकर हत्या, 3 अपराधियों की आक्रोशित लोगों ने की पिटाई एक की मौत 2 की हालत गंभीर एक भक्त भी गोली लगने से ज़ख्मी

राजू सिंह की रिपोर्ट दरभंगा : दुर्गापूजा के महानवमी की अहले सुबह दरभंगा में अपराधियों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *