Breaking News

विशेष :: भूकंप के झटके से हिला उत्तर भारत, उत्तराखंड में था केंद्र

डेस्क : राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित उत्तर भारत के कई हिस्से में बुधवार रात मध्यम तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किये गये। भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, रिक्टर पैमाने पर 5.5 तीव्रता के इस भूकंप का केंद्र उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग में था।

विभाग के राष्ट्रीय भूकंप-विज्ञान केंद्र के मुताबिक, भूकंप रात करीब 8:49 बजे आया। जानमाल की क्षति की फिलहाल कोई सूचना नहीं है। हिमालयी क्षेत्र का हिस्सा उत्तराखंड हाई सिस्मिक जोन में आता है यानी यहां बड़े भूकंप आने की आशंका बनी रहती है। 

भूकंप के झटके दिल्ली-एनसीआर, यूपी, उत्तराखंड और दूसरे राज्यों में भी महसूस किए गए हैं। उत्तराखंड के चमोली, उत्तरकाशी, नई टिहरी, देहरादून और हरिद्वार समेत तमाम जिलों में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। इन झटकों के बाद लोगों में भय का माहौल है। लोग अपने-अपने घरों से बाहर निकल गए हैं। दफ्तरों में काम कर रहे लोग भी सुरक्षा के लिहाज से सड़कों पर आ गए।

भूकंप की दृष्टि से उत्तराखंड के उत्तरकाशी, पिथौरागढ़, चमोली, रुद्रपयायग, बागेश्वर जोन पांच जबकि नैनीताल, अल्मोड़ा जोन चार में हैं। इसके अलावा नार्थ अल्मोड़ा थ्रस्ट से रामेश्वर, घाट, सरयू, भैंसियाछाना, सेराघाट, द्वाराहाट, श्रीनगर आदि से गुजरती है।

 भूकंप आए तो क्या करें?

भूकंप का एहसास होते ही घबराएं नहीं चाहिए, बल्कि घर से बाहर किसी खाली जगह पर खड़े हो जाना चाहिए। बच्चों व बुजुर्गों को पहले घर से बाहर निकालें, किनारे में खड़े रहें। घर में भारी सामान सिर के ऊपर नहीं होना चाहिए। टेबल के नीचे जाना चाहिए।

Check Also

योगीता फाउंडेशन :: मन, वचन व कर्म में समानता रखने वाले गांधी व शास्त्री ने आत्मनिर्भर समाज का देखा था सपना- मनोज शर्मा

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट दरभंगा : राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का जीवन दर्शन एवं …

Leave a Reply

Your email address will not be published.