Breaking News

विशेष :मैथिली सिनेमा के आने से मुरादों के त्योहार का माहौल।

मैथिली सिनेमा का नया इतिहास लिखा जा रहा है। यदि मैथिली सिनेमा के इतिहास की बात करें तो मिथिला का बड़ा क्षेत्रफल और करोड़ों मैथिली भाषी हैं। साथ हीं मैथिली भाषा को अष्टम् सुचि में स्थान भी प्राप्त है मगर मैथिली सिनेमा का अपना कोई अस्तित्व नहीं हैं।
वहीं सन् 1999 में आई मैथिली फिल्म ‘‘सस्ता जिनगी महंग सेनुर’’ जिसे दर्शकों नें खुब सराहा था, जो आज तक एक मात्र मिल का पत्थर है। जो मिथिला फिल्म जगत में अपनी पहचान बना पाई।
वहीं सन् 2018 के 2 नवम्बर को मैथिली सिनेमा के नए इतिहास को लिखनें का दिन तय किया गया।
नवम्बर का महिना त्योहारों का महीना है जब दिपावली एवं छठ जैसे महापर्व मनाए जाएगें इसी बीच इतनी बड़ी बजट वाली मैथिली फिल्म का आना किसी उपहार से कम नहीं है मैथिली भाषा प्रेमियों के लिए।
सिनेमा के लगने का दिन पता चलते हीं मिथिलांचल क्षेत्र समेत देश एवं विदेश के प्रवाशी मैथिलों में उत्सव का माहौल है।
अलग-अलग क्षेत्रों में अलग-अलग समुदाय के लोग अपनें-अपनें तरीके से इस मन्नतों के पर्व को लेकर उत्साहित हैं। मानों मुरादें मांगनें का उत्सव आया हो।
जहां मिथिला क्षेत्र सहित देश के दिल्ली, मुम्बई, वाराणासी, भभुआ जैसे कई क्षेत्रों से हमें जानकारी प्राप्त हो रही है कि जगह-जगह अलग-अलग प्रकार के अनुष्ठान भी किए जा रहें है।
जहां मैथिली भाषा प्रेमी मैथिली के सफलता की प्रार्थनाएं कर रहें है वहीं छोटे मैथिली फिल्म निर्माता मैथिली सिनेमा का बाजार स्थापित होनें की दुआएं मांग रहें हैं।
वहीं एक जनसमुदाय सिनेमा की मुख्य अभिनेत्री रैना बनर्जी के सफलता के लिए उत्साहित है। प्राप्त जानकारी के अनुसार 5 नवम्बर को हीं अभिनेत्री रैना बनर्जी का जन्मदिन भी है। इस कारण भी मुख्य अभिनेत्री के चाहने वाले भी मन्नतों के पर्व में शामिल हैं।
देश के कई क्षेत्रों से हमारे पास प्रतिक्रियाएं आ रहीं हैं। फिल्म के शूटिंग से लेकर सिनेमा हॉल में लगनें तक ‘‘टीम स्वर्णिम’’ अपनें पाठको के हर प्रतिक्रिया पर वस्तुस्थिती से अवगत कराते हुए फिल्म निर्माता और पाठकों के बीच पुल का काम किया है।
मुरादों के त्योहार की खबरें एवं प्रतिक्रियाए हमें प्राप्त हुई हैं उन सभी को शामिल करना संभव नहीं था इस वजह से कुछ प्रतिक्रियाओं को हीं आपके साथ साझा कर पाना सम्भव हुआ।

मिथिला के दरभंगा से ओम् शंकर राज, फिल्म निर्माता की प्रतिक्रिया
ओम् शंकर राज बताते हैं कि मैथिली सिनेमा के बाजार को स्थापित होने और मुख्य अभिनेत्री रैना बनर्जी के सफलता के लिए इन्होंने भगवती स्थान में पूजन अनुष्ठान का संकल्प लिया है। मैथिली सिनेमा का कोई बाजार नहीं होने के कारण इनके कई मैथिली फिल्मों के निवेश डुब गए जिनमें प्रेम प्रतिज्ञा जैसी फिल्में शा हैं।

 

 

मिथिला के दरभंगा से सुमित कुमार, वरिष्ट अधिवक्ता की प्रतिक्रिया
सुमित कुमार का मानना है कि मैथिली सिनेमा की स्थापना में प्रेमक बसात एक सुनहरा अवसर है। इन्होंनें दरभंगा श्यामा माई मंदिर में फिल्म एवं अभिनेत्री के सफलता की प्रार्थना की है और 5 नवम्बर को गरीबों को भोजन करानें का संकल्प लिया है।

मिथिला के दरभंगा से चेतन आनंद, व्यवसायी की प्रतिक्रिया

चेतन आनंद ने 2 नवम्बर को अपने कार्यालय में अवकाश और सभी कर्मचारियों को सपरिवार मैथिली सिनेमा ‘‘प्रेमक बसात’’ देखनें का टिकट दिया है। ताकी मैथिली सिनेमा का नया इतिहास बनें। साथ हीं मुख्य अभिनेत्री रैना बनर्जी को जन्मदिन की शुभकामनाएँ भी दी हैं।

मिथिला के मधुबनी से अमित रंजन की प्रतिक्रिया
अमित रंजन खुद को अभिनेत्री रैना बनर्जी का फैन बताते हैं। इनका मानना है कि जिस प्रकार माता जानकी नें मिथिला की सम्पन्नता एवं मैथिलों की रक्षा की थी उसी प्रकार आज अभिनेत्री रैना बनर्जी मैथिली सिनेमा की स्थापना एवं मैथिली सिनेमा की सम्पन्नता के लिए अवतरित हुई हैं। इन्होनें 5 नवम्बर को जानकी स्थान में पूजन का संकल्प लिया है।

मुजफ्फरपुर से अमित राज की प्रतिक्रिया
अमित राज नें बताया की वो अभिनेत्री रैना बनर्जी के फैन हैं और अभिनेत्री रैना बनर्जी को सोशल मिडिया पर फौलो करते हैं और वहीं से प्रेमक बसात की खबर मिलते हीं पहूॅच गए माता बगला मुखी के मंदिर में और पुजा-अर्चना कर गरीबों को भोजन भी कराया। साथ हीं अभिनेत्री रैना बनर्जी को जन्मदिन की शुभकामनाएँ भी दी हैं।

 

मिथिला के सीतामढ़ी से अरुण कुमार, व्यवसायी की प्रतिक्रिया
अरुण कुमार नें बताया कि उन्होंने मन्नत मांगी है कि यदि प्रेमक बसात हीट हुई तो वे भगवती पुजन अनुष्ठान सहित भोज का आयोजन करेंगे। साथ हीं अभिनेत्री रैना बनर्जी को जन्मदिन की शुभकामनाएँ देते हुए उनके स्वर्णिम भविष्य की कामना की है।

 

दिल्ली से युवा दम्पत्ति नितिश और स्नेह की प्रतिक्रिया
ये युगल जोड़ी बताते हैं कि इन्होनें 5 नवम्बर को सत्यनारायण कथा पुजन का संकल्प लिया है। फिल्म के सफलता एवं रैना बनर्जी के जन्मदिन की शुभकामनाओं के लिए।

 

मिथिला के समस्तीपुर से व्यवसायी जैदी हाशमी की प्रतिक्रिया जैदी हाशमी नें समस्तीपुर के पीर स्थान पर फिल्म के कामयाबी और अभिनेत्री रैना बनर्जी के सफलता के लिए दुआएँ मांगी और चादर पोशी कर मन्नत मांगी।

 

 

भागलपुर से नौकरी पेशा समीर सिद्धिकी की प्रतिक्रिया
समीर सिद्धीकी खुद को गौरवान्वित मानते हैं की उनकी जन्म भूमी मिथिला के इतिहास का नया अध्याय लिखा जा रहा है और मुख्य अभिनेत्री के शुक्रगुजार हैं कि उन्होनें बंगाल से निकलकर मिथिला को अपनाया है। इस दैरान उन्होनें कछौता सरीफ मजार में चादर पोशी कर दुआ मांगी फिल्म और अभिनेत्री रैना बनर्जी के लिए। साथ हीं अभिनेत्री रैना बनर्जी को जन्मदिन की शुभकामनाए भी दी हैं।

भभुआ से समाज सेवी ज्योती केसरी की प्रतिक्रिया
ज्योती केशरी बताती हैं कि वो रैना बनर्जी की बहुत बड़ी फैन हैं उनको रैना बनर्जी में अपना अक्स नजर आता है। इसी वजह से उन्हांनें माँ मुन्डेस्वरी मंदिर, भभुआ में श्रींगार एवं नारियल अर्पण कर फिल्म और अभिनेत्री के सफलता के लिए प्रार्थना की है और गरीबों को भोजन कराने का संकल्प लिया है।

 

वाराणासी से म्युजिक प्रोडयुसर, अरनव राज की प्रतिक्रिया
अरनव राज का कहना है कि वे अपने दैनिक जीवन में कई अभिनेत्रियों से मिलते हैं मगर अभिनेत्री रैना बनर्जी में उन्हें एक अलग हीं छवि दिखती है। जिस वजह से रैना बनर्जी और मैथिली सिनेमा प्रेमक बसात के सफलता के लिए उन्होने काशी विश्वनाथ में विशेष पुजा-अर्चना की है और 5 नवम्वर को गरीबों को भोजन करानें का संकल्प लिया है।

Check Also

प्रखंडों में टीएचआर वितरण में गड़बड़ी पाई गई तो नपेंगे बाल विकास परियोजना पदाधिकारी – डीएम दरभंगा

डेस्क : दरभंगा समाहरणालय अवस्थित अम्बेडकर सभागार में जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस.एम. की अध्यक्षता में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *