पंजाब :: हिन्दुओं की भावना को प्रधानता देते हुए राम मंदिर का जल्द हो निर्माण : वेदान्ताचार्य स्वामी शिवात्मानंद महाराज

4

राजीव धम्मी : भारतवर्ष का बहुसंख्यक हिन्दू समुदाय राम मंदिर बने यह चाहते है। अयोध्या के भगवान श्री राम जी का मंदिर अबश्य होगा क्यूँ की यह मंदिर भारतवर्ष के आत्मा से जुड़े हुए है। पुरोषोत्तम राम का जो जीवन आदर्श है वो हमारा हिन्दुओं का भी जीवन आदर्श है। जैसे कि यह धार्मिक भावना भारतवर्ष के अधिक लोगों से जुड़े हुए हैं इसीलिए किसी को भी इसके ऊपर आघात नहीं करनी चाहिए। ऐसी कोशिश भी नहीं करनी चाहिए।

मुझे ऐसा लगता है भगवान श्री राम जी के जन्मस्थान पर मंदिर बनाने के लिए ऐसा कष्ट क्यूँ होना चाहिए ? यह मंदिर बनाने के लिए कोई भी राजनीति नहीं होने चाहिए ना धर्म के आधार पर कुछ होना चाहिए। वो जगह भगवन श्री रामचंद्र जी का है और हर भारतीय हिन्दू नागरिक के आदर्श भगवन श्री राम हैं और भी जो संडे का लोग है उनको भारतीय हिन्दुओं की भावनाओं को समझना चाहिए और हमारे साथ सहयोग करना चाहिए। क्यूँ कि राम जी हम सबके ह्रदय में बसे हुए हैं, हमारा जागता हुआ एक चैतन्य है।

भारत सरकार को भी कानून बनाकर किसी भी तरह से मंदिर को बनाना चाहिए। क्यूँकि बहुसंख्यक हिन्दू समुदाय की भावना इससे जुड़ी हुई है इसकी रक्षा और भावना का सम्मान सरकार को करना चाहिए। “जहाँ मुझे लगता है कि भारतवर्ष का आज जो अच्छे दिन चल रहे हैं इस समय पुरुषोत्तम भगवन श्री राम जी का अतिसुन्दर मंदिर बनेगा “।