Breaking News

टेरर अटैक :: अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमला, लश्कर ए तैयबा का इस्माइल मास्टरमाइंड

डेस्क : पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन लश्कर ए तैयबा ने जम्मू और कश्मीर के अनंतनाग में सोमवार रात अमरनाथ यात्रियों पर किए गए हमले की जिम्मेदारी ली है। इसमें हमले में 6 महिलाओं समेत 7 श्रद्धालुओं की मौत हो गई थी, जबकि 32 अन्य घायल हो गए थे। 

कश्मीर के आईजी  मुनीर खान ने बताया कि अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले की साजिश लश्कर ए तैयबा ने रची है। अटैक का मास्टरमाइंड पाकिस्तानी आतंकी इस्माइल है। इसके साथ ही पूरे देश भर में सुरक्षा एजेंसियों को हाई अलर्ट कर दिया गया है। सभी उच्च स्तरीय अधिकारी सुरक्षा हालात की समीक्षा में करने में जुटे  हुए हैं। यूपी में कांवड़ यात्रा पर निकलने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा चाक-चौबंद करने के आदेश दिए गए हैं।

श्रद्धालुओं के शवों को दिल्ली लाया गया
इस बीच सूचना है कि आतंकवादी हमले में मारे गए 7 श्रद्धालुओं के शवों और 19 घायलों को विमान से नई दिल्ली लाया गया है।

राजनाथ सिंह ने बुलाई आपात बैठक
अमरनाथ यात्रियों आतंकी हमले के बाद गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार सुबह गृह मंत्रालय के अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल इस बैठक की अध्यक्षता करेंगे। इस अहम बैठक में शामिल होने के लिए आईबी के निदेशक, एनएसए, RAW चीफ, गृह सचिव-नियुक्त राजीव गाबा, एमएचए अधिकारी गृहमंत्री राजनाथ सिंह के आवास पर पहुंच गए हैं। बैठक में गृह मंत्री अधिकारियों के साथ अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा से जुड़े सभी इंतजामों की एक बार फिर समीक्षा की जाएगी।

आतंकियों का निशाना यात्री बस नहीं थी
कश्मीर के आईजी मुनीर खान ने कहा कि अमरनाथ यात्रियों पर लश्कर द्वारा किए गए हमले का मास्टरमाइंड पाकिस्तानी आतंकी इस्माइल है। उन्होंने कहा कि आतंकियों का निशाना यात्री बस नहीं थी। उन्होंने वहां से गुजर रहे पुलिस वाहन पर हमला किया था। इसी दौरान बस भी गोलीबारी की चपेट में आ गई। पांच पुलिसकर्मियों समेत 17 जख्मी लोगों को पास के अस्पताल में भर्ती करवाया है। उनकी हालत गंभीर बताई गई है। एहतियात के तौर पर जम्मू-श्रीनगर हाईवे को बंद कर दिया है। सूत्रों के अनुसार बाइक पर तीन आतंकी सवार थे। इनमें से एक की पहचान इस्माइल के रूप में हुई है।

गुजरात के वलसाड की थी बस
हमले की शिकार बस 2 जुलाई को वलसाड से निकली थी। बस में यात्रियों के साथ इसके मालिक हर्ष भी शामिल थे। बस में सभी श्रद्धालु गुजरात के हिम्मतनगर के बताए गए हैं। मृतकों में पांच महिलाएं और दो पुरुष श्रद्धालु शामिल हैं।

सुरक्षा कड़ी और इंटरनेट सेवा बंद
जम्मू में हुए आतंकी हमलों के बाद उधमपुर समेत देश के कई हिस्सों में सुरक्षा के पुख़्ता बंदोबस्त किए गए हैं। हमले के बाद उधमपुर में जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाइवे पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है।

Check Also

एक्शन में एसएसपी बाबूराम :: वाजितपुर ओपी प्रभारी समेत 4 दारोगा सस्पेंड, सिमरी थानाध्यक्ष हरि किशोर यादव लाइन हाजिर

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट दरभंगा : दरभंगा के वरीय पुलिस अधीक्षक बाबूराम ने …