Breaking News

राशन कार्ड में तीब्रगति से नाम जोड़ना, हटाना, सही वजन और गुणवत्तापूर्ण अनाज उपलब्ध कराने का दिए निर्देश।

जिलाधिकारी के अध्यक्षता में खाद्यान्न आपूर्ति को लेकर हुई बैठक

दरभंगा समाहरणालय अवस्थित- बाबा साहेब डॉ.भीमराव अंबेडकर सभागार में (DM) जिलाधिकारी दरभंगा राजीव रौशन की अध्यक्षता में खाद्यान्न वितरण की समीक्षा को लेकर आपूर्ति पदाधिकारियों के साथ बैठक आयोजित की गयी। बैठक में बताया गया कि राज्य सरकार की ओर से जनवरी माह से मुफ्त अनाज का वितरण किया जा रहा है। जिलाधिकारी में खाद्यान्न का वितरण ससमय पूर्ण करने का निर्देश दिया।

DM RAJIV RAUSHAN
टास्क फोर्स की बैठक

खाद्यान्न के गुणवत्ता की शिकायत पर सहायक गोदाम प्रबंधक होंगे जिम्मेवार – DM

उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं को सही मात्रा में गुणवत्तापूर्ण खाद्यान्न समय पर प्राप्त हो यही सभी पणन पदाधिकारियों से उनकी अपेक्षा है। जिलाधिकारी ने जिला प्रबंधक राज्य खाद्य निगम को निर्देशित करते हुए कहा कि जिले के सभी खाद्यान्न गोदाम पर सहायक गोदाम प्रबंधक लगातार 24 घण्टे रहेंगे और कभी भी कोई व्यक्ति जांच के लिए वहाँ जाएं तो खाद्यान्न भंडारण में अंतर नहीं मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कुछ (PDS) डीलर ने खाद्यान्न की गुणवत्ता के संबंध में शिकायत की है, यदि ऐसी शिकायत पाई जाएगी तो सहायक गोदाम प्रबंधक (AGM) जिम्मेवार माने जाएंगे। उन्होंने कहा कि यदि किसी PDS डीलर को खाद्यान्न कम मिलता है तो वह इसकी लिखित सूचना दे, इसकी भरपाई डोर स्टेप डिलीवरी एजेंसी (DSD) द्वारा कराई जाएगी।

डीलर को खाद्यान्न कम मिलता है तो वह इसकी लिखित सूचना दे – DM

उन्होंने कहा कि अगर एफसीआई से एसएफसी को कम अनाज मिलता है तो वह भी सूचित करे, उसकी भरपाई भी संबंधित ढुलाई एजेंसी से कराई जाएगी। किरासन तेल वितरण की समीक्षा में बताया गया कि जिले में 68 हजार 444 लीटर तेल दिसंबर माह में बांटा है। राशन कार्ड में नाम जोड़ने की कार्रवाई की समीक्षा में पाया गया कि नाम जोड़ने व हटाने की कार्रवाई लगातार की जा रही है।

जिलाधिकारी ने तीनों अनुमंडल पदाधिकारी को हर गांव में शिविर लगवाकर परिवार के नए सदस्य का नाम जोड़ने तथा जिस लड़की की शादी हो गई है या  मृतक का नाम हटाने का अभियान चलाने का निर्देश दिया गया। उन्होंने कहा कि तीनों अनुमंडल पदाधिकारी एक-एक वैसे पंचायत का नाम उपलब्ध कराएंगे जहां शत-प्रतिशत लोगों का नाम (RATION) राशन कार्ड में जुट गया हो और जो सदस्य नहीं रहे उनका नाम हट गया हो। PDS जन वितरण प्रणाली की दुकानों के निरीक्षण की समीक्षा में पाया गया कि निरीक्षण की संख्या अपेक्षाकृत कम है।

जिलाधिकारी ने सभी पणन पदाधिकारी को प्रत्येक महीने में कम से कम 50 जन वितरण प्रणाली की दुकानों का निरीक्षण करने का निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बुधवारी जांच के दौरान उन्होंने कभी किसी पंचायत में पैक्स को काम करते हुए नहीं पाया। उन्होंने कहा कि यदि ऐसी शिकायत मिलती है कि कोई पैक्स किसान से धान नहीं क्रय करता है तो उसके विरुद्ध निश्चित रूप से कार्रवाई होगी। बैठक में अनुमंडल पदाधिकारी सदर स्पर्श गुप्ता, उप निदेशक जन संपर्क नागेंद्र कुमार गुप्ता, अनुमंडल पदाधिकारी बिरौल संजीव कुमार कापर, अनुमंडल पदाधिकारी बेनीपुर शंभू नाथ झा एवं संबंधित पदाधिकारी गण उपस्थित थे।

पढ़ें यह भी खबर, करें क्लिक

 बिहार राशनकार्ड से जुड़ी सभी जानकारी यहां देखें….

पूरी तरह मुफ्त राशन देगी केंद्र सरकार, दिसंबर 2023 तक नहीं देना होगा एक रूपया भी

राशन कार्ड :: नियमों में बड़ा बदलाव, बिहार समेत 3 राज्‍यों में गेहूं नहीं चावल ही मिलेगा

मुफ्त राशन :: 8 लाख 30 हजार लाभुकों को मुुफ्त में गेहूं-चावल बांटा बीते माह यह जिला

Check Also

राशन कार्ड का निर्गमण तीव्रता से करें-SDO सदर

दरभंगा, सुरेन्द्र चौपाल :- श्री स्पर्श गुप्ता, (भा0प्र0से0) अनुमंडल पदाधिकारी, सदर दरभंगा की अध्यक्षा में आर0टी0पी0एस0 …