Breaking News

लखनऊ:अभद्रता करने पर किया बिरोध, दो छात्राओं को जमकर पीटा।

लखनऊ:अभद्रता करने पर किया बिरोध, दो छात्राओं को जमकर पीटा।

-पुलिस पर जबरन सुलह कराने का आरोप,नही दर्ज किया मुकदमा।

लखनऊ:अभद्रता करने पर किया बिरोध, दो छात्राओं को जमकर पीटा।

रामकिशोर रावत,माल

माल,लखनऊ। एस पी सिंह इंटर कालेज सैदापुर माल के स्कूल से लौट रही कक्षा (11)की दलित छात्रा नीलम से बाजार गांव निवासी युवक लबिस पुत्र संजय पंडित ने की थी शुक्रवार को अभद्रता छात्रा ने घटना शनिवार को कालेज प्रबन्धक को बतायी प्रबन्धक ने पूर्व छात्र रहे लबिस को ऐसी गलती न करने की हिदायत दी।शिकायत कालेज प्रबन्धक से करना लबिस को नागवारा गुजरा।अपने गांव वापस आकर डंडा लेकर नीलम के रास्ते में बैठ गया और जैसे ही नीलम अन्य छात्राओं के साथ पहुंची दबंग ने डंडों से जमकर पिटाई कर दी ।साथ मे कक्षा आठ की छात्र मधू ने बचाने का प्रयास किया तो उसकी भी पिटाई कर दी।नीलम अपने माता पिता के साथ तहरीर थाने पर दिया। तो दबंग के पक्ष मे दर्जनो का हुजूम थाना परिसर में पहुंचा और दलित पर दबाव बनाकर महिला पुलिस द्वारा डॉक्टरी परीक्षण के लिए सीएचसी ले जा रही नीलम को वापस थाने पर लाकर सुलह समझौता कर लिया।जबकि बीट इंचार्ज सोबरन सिंह ने मुकदमा अपराध संख्या और पॉक्सो एक्ट व एस सी/एस टी एक्ट के अलावा छेड़छाड़ जैसी धाराओं में मुकदमा पंजीकृत करने का फरमान भी जारी कर दिया था।यही नहीं आरोपी भी पुलिस हिरासत में है।अंततोगत्वा दरोगा के अड जाने के बाद भी हुजूम के सामने मजबूर हो कर सभी आगन्तुकों के सुलहनामा पर हस्ताक्षर कराने के बाद बड़ी घटना को ठंडे बस्ते में मजबूरन दफन करना पड़ा। माल पुलिस के आगे यह कोई पहला मामला नहीं है ऐसे कई मामले हैं जिसमें पुलिस समझौता कराने में कोई कसर नहीं छोड़ती है अगर समझौता होते ना देखती है तो दोनों पक्षों की तहरीर पर मुकदमा लिखने का दबाव बनाकर फिर समझौता कराया जाता है।

 महिलाओं को कानून की जानकारी देंगे

बेटियों को वह हक नहीं मिल रहा जिसकी वह हकदार हैंः राष्ट्रपति

 

 निचे कमेंट बॉक्स में अपनी प्रतिक्रिया जरुर लिखें

Check Also

“बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ और बेटी को संस्कारित करो” – भागवताचार्य ब्रह्मा कुमार

चकरनगर/इटावा (डॉ एस बी एस चौहान की रिपोर्ट) : हम अगर बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *