मी टू कैंपेन :: मोदी सरकार के मंत्री एम जे अकबर ने दिया इस्तीफा, महिला पत्रकारों के खिलाफ मानहानि का मुकदमा निजी तौर पर लड़ने का फैसला

0

डेस्क : विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. उन पर कई महिला पत्रकारों ने आरोप लगाए थे. हालांकि, अकबर ने उनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया था. आपको बता दें कि जब से मी टू कैंपन चला है, तब से कई हस्तियों पर आरोप लग चुके हैं. अकबर पर भी उनके सहयोगियों ने आरोप लगाए हैं. उनके अनुसार अकबर ने उनके साथ अभद्रता से पेश आते थे. 

वैसे, एक दिन पहले तक अकबर ने साफ कर दिया था, कि उनके खिलाफ दुष्प्रचार चलाया जा रहा है. एम जे अकबर ने कहा कि वह मंत्री पद से इस्तीफा दे रहे हैं, वह अपने खिलाफ लगाए गए झूठे आरोपों को निजी हैसियत से चुनौती देंगे. एमजे अकबर ने अपने खिलाफ लगे आरोपों के बाद कोर्ट का रूख किया था. उन्होंने मानहानि का मुकदमा दायर कर दिया था.  

मोदी सरकार में पहली बार हुआ है कि किसी मंत्री ने विवाद में आने के बाद अपना इस्तीफा सौंपा है. एक दिन पहले राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने एम जे अकबर से मुलाकात की थी.