यूपी:सिर्फ दो हजार रुपये के लिए भारत में घुसपैठ करा रहे दलाल

1

यूपी:सिर्फ दो हजार रुपये के लिए भारत में घुसपैठ करा रहे दलालयूपी:सिर्फ दो हजार रुपये के लिए भारत में घुसपैठ करा रहे दलाल

राज प्रताप सिंह,ब्यूरो लखनऊ

आगरा।यह खबर हमें चौंकाने पर जरूर मजबूर कर सकती है। जब अपना देश पड़ोसी मुल्कों की चालों का शिकार है, आए दिन घुसपैठिए देश में घुसकर आतंक बरपा रहे हैं। महज दो हजार रुपये में सरहदों के आसपास सक्रिय दलाल बांग्लादेशियों और पाकिस्तानियों को भारत में घुसपैठ करा रहे हैं।
रुनकता की नट बस्ती में रोहिंग्या मुसलमानों के साथ बांग्लादेशी परिवार भी रह रहे हैं। मंगलवार को रुनकता की नट बस्ती में एलआईयू के अफसरों ने डेरा डाले रखा। सभी से पूछताछ की गई। जब हिन्दुस्तान संवाददाता ने वहां का मुआयना किया तो बस्ती में कबाड़ ठेकेदार सईद उल गाजी और रोहिंग्याओं का हिसाब-किताब रखने वाला मोहम्मद यूनुस ही मौजूद था। बस्ती में बनी एक झुग्गी में एक महिला खाना बना रही थी। पूछने पर उसने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया।

कृष्णधाम में 36 बिहारी शराब में सराबोर हो बार बालाओं के साथ लगा रहे थे ठुमके, पहुंची पुलिस सभी धरायें

तभी उसका 12 साल का बेटा हबीबुल्ला आ पहुंचा। जब उससे पूछा कि आप कहां से आए हो तो उसने बताया कि हम तीन महीने पहले बांग्लादेश से आए हैं। बच्चे को कुछ और जानकारी नहीं थी। वो बच्चा अपने पिता के पास लेकर गया, जिसने कई चौंकाने वाले खुलासे किए। पिता ने अपना नाम सुलतान फकीर बताया। उसने कहा कि उसकी पत्नी का नाम रिवेका है और उसके दो बच्चे हैं। चार महीने पहले उसका घर नदी में बह गया था। इसके बाद एक दलाल ने दो हजार रुपये में उन्हें बॉर्डर पार कराया।
दलाल ने पाकिस्तान जाने का भी विकल्प दिया था, लेकिन वह भारत आ गया। रुनकता में वह पिछले तीन माह से रह रहा है। सुलतान ने बताया कि यहां एक सरीफुल गाजी का परिवार भी बांग्लादेशी है। जो पुलिस की वजह से अभी यहां नहीं हैं।

निचे कमेंट बॉक्स में अपनी प्रतिक्रीया जरुर लिखें