Breaking News

जन्मदिन विशेष :: मुल्तान के सुल्तान सहवाग का टेस्ट मैच में डबल तिहरा शतक फैन्स के लिए यादगार

picsart_10-20-05-39-51-320x310उ.स.डेस्क : भारत के पूर्व हरफनमौला और विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का आज जन्मदिन है. नज़फगढ़ के सुल्तान’के नाम से प्रसिद्ध सहवाग आज अपना 38वां जन्मदिन मना रहे हैं.वीरेंद्र सहवाग क्रिकेट का वो नाम है जिसके नाम से अच्छे से अच्छे गेंदबाज के पसीने छूट जाते है. यह बात तो हर कोई जानता है. पाकिस्तान के शोएब अख्तर हों या फिर आस्ट्रेलिया के मैकग्राफ.क्रिकेट की दुनिया का कोई भी ऐसा स्टार गेंदबाज नहीं है जो सहवाग के वार से बचा हो. उनके फैंस भी उन्हें अलग अंदाज में मुबारकबाद दे रहे हैं, एक फैन ने लिखा कि, 2 अक्टूबर को गाँधी का जन्म हुआ था और 20 अक्टूबर को आँधी का जन्म हुआ था.
क्रिकेट को अपने ही अंदाज में खेलने वाले वीरेन्द्र सहवाग का जन्म 20 अक्टूबर 1978 को हरियाणा के एक जाट परिवार में हुआ था. सहवाग को बचपन से ही क्रिकेट खेलने का शौक था. वो कहते हैं ना पूत के पांव पालने में ही दिख जाते हैं. ये बातें सही साबित होती है सहवाग पर. उन्होंने महज 7 साल की उम्र में बल्ला थाम लिया था. बचपने से ही उन्हें क्रिकेट में बहुत दिलचस्पी थी.

सहवाग ने अपने क्रिकेट करियर का सफर 1997 में दिल्ली क्रिकेट टीम से शुरू किया था.1998 में वे नार्थन जॉन क्रिकेट टीम में दलीप ट्रॉफी के लिए चुने गए. इस मैच में उन्होंने टॉप स्कोरर में अपनी जगह बनाई.

picsart_10-19-12-12-35-640x4161999 में पाकिस्तान के खिलाफ अपना पहला वनडे खेलने वाले सहवाग ने अपना पहला वनडे शतक सिंहलीज स्पोर्ट्स क्लब ग्राउंड पर न्यूजीलैंड के खिलाफ जड़ा था. सहवाग ने मात्र 70 गेंदों पर 100 रन बनाए थे.2001 में टेस्ट टीम में जगह बनाने वाले सहवाग ने अपने पहले ही टेस्ट मैच में द. अफ्रीका के खिलाफ उन्हीं की धरती पर उन्हें अपना लोहा मनवा दिया था. या यू कहें कि शतक ठोककर क्रिकेट जगत को अपनी धमक का एहसास करा दिया था. इस मैच में उन्होंने बेहतरीन शुरूआत करते हुए 105 रन बनाए.
साल 2002 इंग्लैंड टूर में इन्हें ओपनिंग दी गई और इन्होंने ने अपने दमदार प्रदर्शन से सबका दिल जीत लिया.

साल 2004 में सहवाग ने टेस्ट मैच में तिहरा शतक बनाया और अंतराष्ट्रीय स्तर पर पहले भारतीय बल्लेबाज़ के तौर पर अपना नाम दाखिल किया.ब्रैडमैन और सहवाग के अलावा सिर्फ ब्रायन लारा और क्रिस गेल ही ऐसे क्रिकेटर हैं जिनके नाम 2-2 तिहरे शतक हैं.वीरेंद्र सहवाग अकेले भारतीय क्रिकेटर हैं जिनके नाम दो तिहरे शतक हैं. उनके अलावा कोई अन्य भारतीय बल्लेबाज तिहरे शतक के जादुई आंकड़े को छू भी नहीं पाया.

वीरेंद्र सहवाग भारत के पहले बल्लेबाज हैं जिन्‍होंने टेस्ट क्रिकेट में एक पारी में 300 से ज्यादा रन बनाए हैं. सिर्फ एक बार नहीं सहवाग ने दो बार यह रिकॉर्ड बनाया है.
2008 में चेन्नई के एमएस चिदंबरम स्टेडियम में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 319 रन की पारी खेली, जो आज भी भारत की तरफ से टेस्ट मैचों में किसी बल्लेबाज का सबसे बड़ा स्कोर है. सहवाग की बेहतरीन परफॉर्मेंस के लिए उन्हें अर्जुन अवार्ड, पद्मश्री, आइसीसी 2010 का सर्वश्रेष्ठ टेस्ट क्रिकेटर खिताब मिला था. 2008 में सहवाग ने अपनी इस पारी में 42 चौके और 5 छक्के लगाए थे.

201610111339_349वीरेंद्र सहवाग ने 104 टेस्‍ट मैचों में 49.34 की औसत से 8586 रन बनाए हैं. इसमें उन्‍होंने 23 शतक और 32 अर्धशतक लगाए हैं. इसके अलावा 251 वनडे मैचों में 35.05 की औसत से 8273 रन बनाए हैं. वनडे में उन्‍होंने 15 शतक और 38 अर्धशतक बनाए हैं. सहवाग ने 19 टी20 मैचों में 394 रन बनाए हैं.इसके अलावा सहवाग ने टेस्‍ट मैचों में 40 और वनडे में 96 विकेट झटके हैं.

सहवाग ने अपना अंतिम वनडे अंतरराष्‍ट्रीय मैच तीन जनवरी 2013 को खेला था. वहीं दो मार्च 2013 को अंतिम टेस्‍ट मैच हैदराबाद में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ खेला था. टेस्‍ट मैच की अंतिम पारी में सहवाग ने छह रन बनाए थे.

Check Also

अजीबोगरीब :: नीतीश के टूटे पैर में प्लास्टर की जगह डॉक्टर ने लगा दिया कार्टन, मामला मुजफ्फरपुर के SKMCH का

डेस्क। मुजफ्फरपुर स्थित SKMCH में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। जहां सड़क हादसे में …

दरभंगा के श्रम अधीक्षक राकेश रंजन को पटना में प्रशस्ति पत्र देकर मंत्री ने किया सम्मानित

  डेस्क। विश्व बाल श्रम निषेध दिवस 12 जून 2024 के अवसर पर श्रम संसाधन …

विश्व बाल श्रम निषेध दिवस :: प्रचार रथ को डीएम ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना, एक दिवसीय कार्यशाला बैठक आयोजित

  दरभंगा। विश्व बाल श्रम निषेध दिवस के अवसर पर समाहरणालय अवस्थित बाबा साहेब डॉ.भीमराव …