Breaking News

बिहार :: हत्यारों ने महिला के शव को जलाने में घी और तैलीय रासायनिक पदार्थ का किया था इस्तेमाल

2016_10largeimg26_oct_2016_084743043-240x220मुजफ्फरपुर : बजरंग विहार कॉलोनी में सोमवार की सुबह विजय गुप्ता के मकान में मिली महिला के शव को जलाने में हत्यारों ने घी और तैलीय रासायनिक पदार्थ का इस्तेमाल किया था. घटना की जानकारी के बाद पुलिस, एफएसएल और अन्य जांच एजेंसियों ने शव को जलाये जाने की जांच की थी. वैज्ञानिक जांच से प्रथम दृष्टया घी और तैलीय रासायनिक पदार्थ से शव को जलाये जाने की बात सामने आयी है. वहीं पुलिस डीएनए जांच की कवायद भी कर रही है. कमरे में फैले शव के अवशेष जालिमों के जुल्म की कहानी बयां कर रही है. जेई सरिता की निर्मम हत्या कर हत्यारों ने उसके शव को जलाया था. शव को जलाये जाने से कमरे की दीवार पर धुएं की परत चढ़ गयी है. कमरे में लगे पंखे का रंग पूरी तरह से बदल गये हैं. उस पर राख जम गयी है.

जेइ सरिता कुमारी की कोल्हुआ में हत्या के बाद उसके शव को जलाया गया था.  जांच के दौरान ये बात सामने आयी है कि पूरी साजिश के तहत घटना को अंजाम दिया गया है.सीतामढ़ी के कन्हौली थाना के फुलकाहां गांव की सरिता के शव को जलाने के लिए घी व केमिकल का प्रयोग किये जाने की बात कही जा रही है. वहीं, मामले में सरिता के पति विजय कुमार नायक ने मकान मालिक सहित अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या की प्राथमिकी करायी है. पुलिस मकान मालिक विजय कुमार गुप्ता को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ कर रही है.

घटना के दूसरे दिन मंगलवार को नगर डीएसपी आशीष आनंद और अहियापुर पुलिस ने विजय से तीन घंटे पूछताछ की. इसमें कई सुराग हाथ लगे हैं. इसी बीच मामले की जांच के लिए मौके पर पहुंचे नगर डीएसपी को मृतका के पड़ोसी ने एक लिफाफा दिया. इसमें विजय पर प्रताड़ित करने के साथ कई आरोप लगाये हैं.
पुलिस ने जेइ के घर की तलाशी ली. इस दौरान जेइ की फाइल की भी जांच की. पुलिस एक कमरे में टेबल पर रखे चार ग्लास थाने ले आयी. गिलास पर अंगुली के पड़े निशान की जांच के लिए उसे सीएफएल को सौंप दिया. पुलिस को आशंका है कि हत्या से पहले अपराधी मकान में रुके थे. जेइ सीतामढ़ी जिले के कन्हौली थाना के फुलकाहां गांव की रहनेवाली थी. उसके पति विजय कुमार नायक गांव में खेती-बारी करते हैं. छोटा बेटा आर्यन सरिता के साथ बजरंग विहार कॉलोनी स्थित आवास पर रहता था.

एसएसपी विवेक कुमार ने बताया कि बरामद सुरागों को सीएफएल टीम ले गयी है.रिपोर्ट आने पर ही मामला स्पष्ट हो पायेगा और हत्या की गुत्थी सुलझ पायेगी.

Check Also

अब पेट्रोल पंपों से भी मिलेगा “छोटू” सिलेंडर

– छोटे उपयोगकर्ताओं के लिए कम कम औपचारिकता का कनेक्शन– 5 किलो वाला एलपीजी सिलेंडर …