Breaking News

भारत की चायवाली का आस्ट्रेलिया में डंका, ‘बिजनेस वूमन ऑफ द ईयर’ का मिला अवार्ड्

upma-virdi-320x213भारतीय मूल की एक ‘चायवाली’ ने ऑस्ट्रलिया में बिजनेस वूमन ऑफ द ईयर का पुरस्कार जीतकर पूरे देश का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया है. बता दें कि ऑस्ट्रेलिया में लोगों को भारतीय मसाला चाय का चस्का लगाने वाली उपमा विरदी को बिजनेस वूमन ऑफ द ईयर चुना गया है. इंडियन ऑस्ट्रेलियन बिजनेस एंड कम्युनिटी ने पिछले सप्ताह उपमा को इस अवॉर्ड से नवाजा है.

चंडीगढ़ की उमपा विरदी ऑस्ट्रेलिया में पेशेवर वकील हैं और अपनी नौकरी से वक्त निकालकर यहां के लोगों को चाय परोसती हैं. उपमा की मसाला चाय इतनी खास है कि इसका स्वाद देशी और विदेशी सबकी जुबान पर चढ़ गया है.

26 साल की उपमा विरदी फुल टाइम चाय का रेस्‍टोरेंट या कैफे नहीं चलातीं, लेकिन चाय का ऑनलाइन बिजनेस जरूर करती हैं. वे चाय पर वर्कशॉप्‍स भी करती हैं. चाय से उनका ये प्‍यार उनके दादा के कारण है, जो आयुर्वेदिक डॉक्‍टर थे.

वे जब छोटी थीं तब पूरे परिवार के लिए चाय बनाती थीं. बस वहीं से उन्‍हें महसूस हुआ कि वे परफेक्‍ट चायवाली बन सकती हैं. विरदी का परिवार चंडीगढ़ में है. वे भी उसी तरह चाय बनाती हैं जितने प्‍यार से हम भारतीय बनाते हैं.उपमा का चाय का बिजनेस शुरू करने का आइडिया पहले तो उनके माता पिता को पसंद नहीं आया था, लेकिन अब उपमा एक चाय व्यापारी बनकर उभरी हैं. इससे मिली पहचान से सभी खुश हैं. उपमा कहती हैं कि वह ऑस्ट्रेलिया में चाय को लोकप्रिय बनाकर यहां भारतीय संस्कृति को बढ़ावा देना चाहती हैं. वह कहती हैं कि भारत में चाय लोगों को जोड़ती है. सुख दुख में लोग चाय पीते हैं और सब ठीक होने लगता है.

Check Also

दरभंगा में बंद घर को चोरों ने बनाया निशाना, नकद जेवरात समेत जरूरी कागजातों की चोरी

    दरभंगा। शहर के सदर थाना इलाके में बेखौफ चोरों ने बंद घर का …

जिलाधिकारी ने संभावित बाढ़ प्रभावित चौकियों का किया निरीक्षण, दिए कई अहम निर्देश

डॉ एस बी एस चौहान की रिपोर्ट चकरनगर/ इटावा। विकास खण्ड चकरनगर में वाढ़ग्रस्त चौकियों …

दरभंगा समाहरणालय अंबेडकर सभागार में डी.एल.सी.सी.की हुई तिमाही बैठक

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट दरभंगा। समाहरणालय अवस्थित बाबा साहेब डॉ.भीमराव अम्बेडकर सभागार में …