थाना डिवीज़न 1 द्वारा ढाई करोड़ की हीरोइन बरामद

1

5fb655a3-826e-4bb3-a050-33c75c6828f4जालंधर (उमेश बत्रा): थाना डिवीज़न 1 द्वारा ढाई करोड़ो की हीरोइन बरामद आज अर्पित शुक्ला, आई पी एस कमिश्नर पुलिस दवारा नशा तस्करों के खिलाफ नकेल कसने की शख्त हिदायतों के मद्देनजर जसबीर सिंह पी.पी.ऐस, (डिप्टी कमिश्नर) पुलिस-1 और लखबीर सिंह पी.पी ऐस कंट्रोल रूम जालंधर ने प्रेस को जानकारी दी की थाना डिवीज़न नंबर 1 जालंधर की पुलिस को उस वक्त एक बड़ी सफलता हासिल हुई जब थाना प्रभारी बलवीर सिंह व ऐ.एस.आई अवतार सिंह समेत पुलिस पार्टी मकसूदां सब्जी मंडी से होते हुए नागरा पिंड जा रहे थे तभी उनकी नजर एक नौजवान पर पड़ी जो की उन्हें देख कर घबरा गया और एक दम रास्ता बदलता हुआ पीछे मुड़ गया।

 शक की बुनियाद पर उसे काबू कर के उससे नाम-पता पूछा गया, तो उस ने अपना नाम अजय कुमार पुत्र लेट अनिल कुमार  निवासी ईसा नगर बताया, अजय कुमार कुमार की तलाशी लेने पर उसके पास एक मोमी लिफाफे में भारी मात्रा में हीरोइन बरामद हुई जिसका वजन करीब 480 ग्राम है। अजय कुमार का क्रिमिनल रिकॉर्ड चेक करने पर पता चला की उसके खिलाफ डिवीज़न नंबर 8 और 2  नंबर में भी शराब और हीरोइन बेचने हेतु मुक़दमे दर्ज है। दोषी अजय दसवीं पास हे और वे खुद भी हीरोइन का सेवन करता हे व दिखावे के लिए पेंटर का काम करता है। हीरोइन कहा से लाता हे ,किसे बेचता हे पुलिस तफ्तीश कर रही साथ ही आज रिमांड में लेकर बाकि जानकारी भी लेगी, उक्त दोषी के खिलाफ बनता मल दर्ज कर दिया गया है।

इसके अलावा प्रेस वार्ता में बताया की आज ही डिवीज़न नंबर १ द्वारा एक और सफलता हासिल करते हुए एक और दोषी गौरव पुत्र विशाल कोहली वासी अमृत विहार को २० ग्राम हीरोइन समेत गिरफ्तार किया। इस दोषी को गिरफ्तार करने वाले ए.एस.आई जसविंदर ने बताया की वे और उनके साथ पुलिस टीम गुरु अमरदास नगर से होते हुए सलीमपुर मुसलमान पिंड जा रहे थे तभी रास्ते में जा रहे एक नवयुवक (गौरव)  उन्हें देख कर घबरा गया और वापसी की तरफ मुड़ गया। उसी समय पुलिस द्वारा शक की बुनियाद में उसे पकड़ कर नाम व पता पूछा गया और तलाशी में उसके पास 20 ग्राम हीरोइन बरामद की गई। उक्त दोषी के खिालफ मामला दर्ज कर लिया गया है साथ ही क्रिमिनल रिकॉर्ड चेक करने के बाद पता चला की उसके खिलाफ एक और जुर्म के चलते थाना लांबड़ा में मामला दर्ज है। दोनों दोषियों से प्राप्त हीरोइन करीब ढाई करोड़ की है और पुलिस की माने तो उन्हें ये एक बड़ी सफलता हासिल हुई है।