बिहार :: शराब के बिक्री को लेकर बैठक।

5

शेरघाटी : अनुमंडल के विभिन्न स्थानो पर हो रही शराब के बिक्री को लेकर सोमवार को शेरघाटी थाना परिसर में एसएसपी गरिमा मलीक व नगर पुलिस अधीक्षक जे.जलारेड्डी के अध्यक्षता में बैठक बुलाई गई। इस मौके पर जनप्रतिनिधियो के आलावा जीविका दीदि व आम पब्लिक भी अपनी अपनी आवाज को रखा। श्री रामपुर पंचायत के मुखिया संजय कुमार ने शराब की हो रही बिक्री को लेकर एवं पुलिस प्रसासन के द्वारा किसी तरह की कार्यवाई नही होने की बात कही जबकी कई स्थानों को भी चिंहित कराया गया। बीटी बिगहा,पंडित बिगहा, कुबड़ी, बेल्डीह के आलावा कई स्थानों को चिंहित कराया गया है। जबकि गोपालपुर मुखिया चिंता मणि ने बताया की गोपालपुर में धड़ल्ले से शराब की बिक्री हो रहे है। जिसमे पुलिस प्रसासन धंधेबाजो को पकड़ने में बिफल है। वही जीविका के दीदियों ने अपनी अपनी बात को कहा दीदियों ने कहा की शराब की बिक्री की जा रहे जिसमे कुछ पुलिस के बड़े अधिकारियो के द्वारा कराया जा रहा है।बताया की शराब बेचने बाले को पकड़ा जाता है लेकिन पैसा लेकर उसे छोड़ दिया जाता है।इस इस तरह की हो रही करवाई को लेकर अपनी अपनी अबाज को बुलंद करते हुए बात को रखा। नगर पंचायत अध्यक्ष पुत्र विनय प्रसाद ने बताया की शहर के पुरानी चट्टी व भुटोली में धड़ले से शराब की बिक्री की जा रही है।जिसमे दफादार व् उनके कुछ लोगो का इसमें हाथ है।इस कारण पुलिस के द्वारा किसी भी तरह की कार्यवाई नही की जाती है।उन्होंने बताया की कुछ लोग शहर के सटे बिहार व झारखण्ड के रास्ते से शराब को लाया जाता है और बेचा जाता है।इसी प्रकार मौजूद जनप्रतिनिधियों ने अपनी अपनी आवाज बातो को रखा और शराब के करोबारियो को पकड़ने की बात कही।एसएसपी गरिमा मल्लिक ने लोगो को संबोधित करते हुए कहा की राज्य के मुखिया नितीश कुमार ने बिहार में पूर्ण शराब बन्दी व ताड़ी,गांजा के आलावा कोई भी नशीला पदार्थ की बिक्री नही की जायेगी अगर पकड़ने जाने पर कैद की सजा दी जायेगी।साथ साथ इस पर नकेल कसने के लिए सभी लोगो को उच्च अधिकारी के आलावा थाना का नम्बर भी है।इस बैठक में मौजूद डीएसपी उपेन्द्र प्रसाद,थाना प्रभारी,मनोज कुमार सिंह, बिडिओ संतोष कुमार ,लाल बहादुर शास्त्री, दिनेश यादव, मुखिया धर्मेन्द्र सिंह,मुरार सिंह, भारत चैधरी,अजय कुमार यादव,मोहम्द असमत, के अलावे सैकड़ो लोग मौजूद रहे।साथ साथ शिकायत पेंटी रख कर लोगो को अपनी अपनी शिकायत लिखकर डालने के लिए कागज दिया गया।