Breaking News

अयोध्या से काशी का सफर होगा आसान, फोरलेन से जुड़ेंगे प्रमुख धार्मिक स्थल

अयोध्या से काशी का सफर होगा आसान, फोरलेन से जुड़ेंगे प्रमुख धार्मिक स्थल

(राज प्रताप सिंह-लखनऊ)-रामकी नगरी अयोध्या से बम भोले की नगरी काशी को फोर लेन से जोड़ने की कवायद शुरू हो गई है। वहां से मां विंध्यवासिनी धाम शक्तिपीठ भी इससे जुड़ेगा। अयोध्या से वाराणसी तक फोरलेन सड़क बनाने के लिए डीपीआर भी तैयार हो चुकी है।

वाराणसी सीमा से शुरू फोरलेन की सड़क अकबरपुर सीमा तक 64.3 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। सड़क व परिवहन मंत्रालय यह तय करेगा कि इस सड़क को यूपी एनएच बनाएगा अथवा एनएचएआई। यह जिम्मेदारी तय होने के बाद टेंडर की प्रक्रिया शुरू की जायेगी।

वाराणसी के सिंधोरा से निकल कर जौनपुर के थानागद्दी. मनियरा, केराकत से मुफ्तीगंज होकर जौनपुर की सीमा

जौनपुर से खेतासराय, शाहगंज, बिल्वाई, कलान, मालीपुर तक सड़क चौड़ीकरण के बाद इस अहम रूट पर वाहनों के भारी दबाव को देखते हुए केंद्र सरकार ने र्मिक नगरी अयोध्या से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी तक फोरलेन सड़क बनाने के लिए डीपीआर तैयार करने के लिए एनएचएआई को निर्देशित किया था। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने जौनपुर, वाराणसी, अंबेडकरनगर, फैजाबाद समेत अन्य जिलों के जिला प्रशासन से समन्वय स्थापित कर इस सड़क का एलाटमेंट तैयार कर प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा दिया।

इसके बाद ही केन्द्र सरकार ने अयोध्या से वाराणसी को जोड़ने के लिए सम्यक परीक्षण के उपरान्त अपनी अनुमति प्रदान कर दी।लोक निर्माण विभाग जौनपुर को केंद्र सरकार की ओर से जो सूचना मिली है उसमें वाराणसी के सिंधोरा से निकल कर जौनपुर के थानागद्दी. मनियरा, केराकत से मुफ्तीगंज होकर जौनपुर की सीमा में प्रवेश करेगी। वहां से यह फोरलेन पूर्वांचल के प्रसिद्ध शक्तिपीठ जौनपुर स्थित शीतला चौकियां धाम के निकट प्रसाद इंस्टीट्यूट के सामने से होकर खेतासराय कस्बे में मिलेगी। वहां से शाहगंज तहसील मुख्यालय को स्पर्श करते हुए अकबरपुर की सीमा में प्रवेश कर आगे अयोध्या-फैजाबाद फोरलेन में जुड़ेगी।

पढ़ें यह भी खबर-अखिलेश यादव बोले -अयोध्या में बने हालात से पूरे प्रदेश में दहशत

इस संबंध में विभागीय अधिकारियों का कहना है कि भारत सरकार की ओर से एनएच घोषित होने के बाद अब इसके लिए सरकार की तरफ से कार्यदायी संस्था का चयन होगा। जिसमें यह तय किया जायेगा कि सड़क का निर्माण यूपी एनएच करेगा या एनएचएआई। इसके बाद टेंडर प्रक्रिया करके यदि भूमि अधिग्रहण करने की जरूरत पड़ी तो उसे पूर्ण करके निर्माण कार्य शुरू करा दिया जाएगा।

लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियन्ता राधाकृष्ण ने बताया की अयोध्या से वाराणसी तक एनएच घोषित होते ही जौनपुर की कई अन्य सड़कों को फोरलेन से जोड़ने की कवायद शुरू की जायेगी।

इसके साथ ही अकबरपुर से बसखारी तक भी फोरलेन व जौनपुर की सबसे बड़ी तहसील शाहगंज से सुलतानपुर-आजमगढ़ तक फोरलेन बनाने की तैयारी चल रही है। जिले में एनएच का जाल फैल जाएगा। पीडब्ल्यूडी के पास बड़ी सड़कों का अकाल हो जाएगा, सिर्फ ग्रामीण सड़कें व कुछ अन्य जिला मार्ग ही शेष रहेंगी।

Check Also

महारानी कल्याणी कॉलेज में राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस पर कार्यक्रम आयोजित

डेस्क : राष्ट्रीय सेवा योजना के महारानी कल्याणी महाविद्यालय की इकाई में आज राष्ट्रीय सेवा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *