Breaking News

जालंधर::पंजाब के कॉलेजो में छात्र यूनियनों की बढ़ती गुंडागर्दी

जालंधर(ब्यूरो):इसे भड़काऊ गानों का साइड इफेक्ट कहें या फिर बदले की भावना से ओतप्रोत फिल्मों का असर कि अपने टीचर से भी बदला लेने के लिए छात्र हर हद पार कर रहे हैं। जी हां, ये लाइन जालंधर के बाईपास स्थित प्रतिष्ठित कालेज की उस घटना से जुड़ी है जिसे दबाने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। घटना का विलेन एक छात्र  है जोकि खुद की नजर में हीरो है। इस छात्र ने कालेज की कम्यूटर लैब में आकर सबके सामने प्रोफेसर  पर यूरिन अटैक कर दिया। आप सोच रहे होंगे कि एसिड अटैक की जगह हमने गलती से यूरिन अटैक लिख दिया। जी नहीं ऐसा नहीं है ये यूरिन अटैक ही है क्योंकि इस युवक ने पेशाब ही महिला प्रोफेसर पर फेंका। बताया जाता है कि युवक को कालेज से निकाला गया था और उसकी नजरों में इसके पीछे कारण वह महिला प्रोफेसर ही है जिसपर निष्कासित छात्र ने यूरिन अटैक किया। ये युवक जब कालेज से निकाला गया तब बीसीए पांचवें सेमेस्टर में पढ़ता था और गोपाल नगर का रहने वाला है। लैब में ही उपस्थित छात्रों ने यूरिन अटैक के बाद छात्र को काबू करके पुलिस के हवाले कर दिया गया। इस घटना ने शिक्षक समाज के माथे पर ंिचंता की लकीरें पैदा कर दी हैं आखिर कालेज में ही अगर वे सुरक्षित नहीं हैं तो फिर वे क्या करें। उधर, इस घटना को दबाने के लिए कालेज प्रशासन ने कंप्युटर लैब में उपस्थित शिक्षकों व स्टूडेंटस के मुंह भी बंद करवा दिए। हालांकि इस मामले में कोई आफिशियल शिकायत या एफआईआर दर्ज नहीं हुई है क्योंकि इस कालेज की मैनेजमेंट के साथ शहर के प्रतिष्ठित राजनीतिक, सामाजिक परिवार जुड़े हुए हैं जोकि मामले को दबाने में लगे हुए हैं। उत्तम हिन्दू न्यूज को इस घटना की पुष्टि वहां मौजूद एक महिला प्रोफेसर और वहां मौजूद छात्रों ने नाम न छापने की शर्त पर की है।

Check Also

हाजीपुर में सोना लूटकांड, महज 15 मिनट में करोड़ों की लूट CCTV का DVR भी लेकर फरार

सोना लूट कांड दोबारा इन हाजीपुर, देखें वीडियो… डेस्क : वैशाली जिले के हाजीपुर में …