Breaking News

बिहार :: गलत बिजली बिलिंग को लेकर जिला विद्युत अभियंता से मिला शिष्टमंडल, सुधार के लिए सात को लगेगा शिविर

बखरी (बेगूसराय) : नगर क्षेत्र में गलत बिलिंग से संबंधित समस्या तथा उसके निपटारे हेतु मंगलवार सात नवंबर को कामास्थान स्थित स्थानीय विद्युत कार्यालय में एक विशेष शिविर का आयोजन किया जायेगा। उक्त शिविर में मौजूद कनीय अभियंता नगर पंचायत क्षेत्रान्तर्गत गलत या अधिक बिलिंग से संबंधित आवेदन स्वीकार करेंगे। एक तय निश्चित समयसीमा के अन्दर उन आवेदनों के आधार पर संबंधित मीटर, विद्युत विपत्र की जांच कर उपभोक्ताओं को सही बिलिंग दिया जा सकेगा। शनिवार की देर शाम नगर पार्षदों के एक तीन सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल को उपरोक्त बातें जिला विद्युत कार्यपालक अभियंता सनत कुमार पाठक ने कही। प्रतिनिधिमंडल में शामिल नगर लेखा समिति के अध्यक्ष सिधेश आर्य, सशक्त स्थायी समिति के सदस्य प्रवीण कुमार जयजय, मुख्य पार्षद प्रतिनिधि प्रेम कुमार पप्पू ने इससे पूर्व कार्यपालक अभियंता को ज्ञापन सौंपते हुए आरोप लगाया कि शहर के अधिकांश विद्युत उपभोक्ता गलत विपत्र के कारण मानसिक प्रताड़ना झेल रहे हैं। स्थानीय फ्रेंचाइजी तथा बिजली कार्यालय लगातार दौड़ने के बाबजूद उन समस्याओं का समाधान नहीं हो पाता। उस पर तुर्रा यह कि गलत बिलिंग के शिकायत के बावजूद विद्युत विच्छेदकों की टीम ऐसे उपभोक्ताओं की बिजली काटने पहुंच जाते हैं। एक तरफ जहां ऐसे उपभोक्ताओं को नाहक शर्मिंदगी झेलनी पड़ती है, वहीं विद्युत विच्छेदकों की टीम को भी कई बार असहज स्थिति तथा आक्रोश का भी सामना करना पड़ता है। प्रतिनिधिमंडल ने नगर फीडर का मामला उठाते हुए कहा कि सबग्रीड स्टेशन स्थापना के तीन वर्ष बीत जाने के बावजूद नगर फीडर अलग नहीं किया जा सका है। जबकि उस फीडर से अन्य क्षेत्रों की भी गलत तरीके से बिजली सप्लाई की जाती है। इससे जहां एक तरफ उक्त फीडर पर अत्यधिक लोड रहता है, वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में हल्की सी भी फॉल्ट रहने पर शहर की विद्युत आपूर्ति रोक दी जाती है। प्रतिनिधिमंडल ने नगर फीडर को अविलंब अलग करने की मांग कार्यपालक अभियंता से की। वहीं शहर में जर्जर झूलते तथा बाजार क्षेत्र में लगातार गलकर गिर रहे दुर्घटना का सबब बन रहे बिजली के तारों को बदलने की भी मांग की। जबकि शहर के वार्ड संख्या 16 स्थित महादलित बस्ती रौता मुशहरी में अबतक बिजली नहीं पहुंचने का मामला भी उठाया। इसके अलावा सम्पूर्ण शहर में कॉपर अर्थिंग के नहीं होने से लो वोल्टेज द्वारा समस्या, विभिन्न ट्रांसफार्मों पर स्वीच का अभाव एवं नगर पंचायत द्वारा प्रतिमाह लाखों का भुगतान किये जाने के बावजूद स्ट्रीट व हाईमास्ट लाईट हेतु अलग संचरण लाईन का अभाव तथा उन पर विद्युत मीटर न होने पर भी चर्चा की गयी। इस बाबत कार्यपालक अभियंता ने बताया कि नगर फीडर अलग किये जाने में ढ़ाला चौक स्थित रेलवे क्रॉसिंग आड़े आ रहा है, जिसकी दूसरी तरफ शहर के लगभग पांच वार्डों को बिजली आपूर्ति उस फीडर से किया जाना है। फिलहाल रेलवे से एनओसी हेतु मामला अग्रसारित है। एनओसी मिलते ही नगर फीडर अलग कर लिया जायेगा। वहीं नगर क्षेत्र में आपूर्ति में सुधार हेतु और अधिक ट्रांसफारमर लगाने सहित अगले तीन माह में शहर के सभी पुराने तारों को बदल दिया जायेगा। इस बाबत कार्यादेश प्राप्त कंपनी द्वारा पोल वगैरह गिरा कर काम प्रारंभ कर दिया गया है।

Check Also

प्रखंडों में टीएचआर वितरण में गड़बड़ी पाई गई तो नपेंगे बाल विकास परियोजना पदाधिकारी – डीएम दरभंगा

डेस्क : दरभंगा समाहरणालय अवस्थित अम्बेडकर सभागार में जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस.एम. की अध्यक्षता में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *