बिहार :: मिथिला की बेटी भारती ने मिथिला पेंटिग्स में विश्व मानचित्र पर लहराया परचम…..

18

images-12दरभंगा : मिथिला की बेटी भारती दयाल ने मिथिला पेंटिग्स के क्षेत्र में जिले का नाम विश्व के मानचित्र पर पहुंचाया. पिछले दिनों भारत सरकार की ओर से भारती दयाल कल्चलर एंबेसडर बन यूनेस्को गयी थी जहां उसने मिथिला पेंटिग्स में अपना टैलेंट दिखाया.

पड़ोसी जिला समस्तीपुर के काशीपुर निवासी स्व. विजय कुमार सिन्हा एवं श्रीमती इंदू सिंहा की बेटी भारती दयाल मिथिला पेंटिग्स के क्षेत्र में कई मुकाम हासिल कर चुकी है. उसकी पेंटिग्स को कई पुस्तकों के कवर पेज पर लगाया जा चुका है. वह इसकी मदद से बिहार की दो सौ महिलाओं को स्वरोजगार से भी जोड़ चुकी है। वर्ष 2006 में राष्ट्रपति प्रतिभा सिंह पाटिल ने भारती दयाल को पुरस्कृत किया था.

समस्तीपुर पहुंचने पर पत्रकारों से बातचीत में कहा कि दो सितंबर को यूनेस्को में केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी के साथ कल्चलर एंबेस्डर बनकर जाने का सौभाग्यanimated मिला जहां मिथिला पेंटिग्स के बारे में बताया।उन्होंने बताया कि एनके सिंह एवं निश्चल स्ट्रेन द्वारा अंग्रेजी में लिखित पुस्तक द न्यू बिहार के कवर पेज में उनकी पेंटिग्स को लगाया गया है जबकि फार्म ऑफ डिवोशन में कई पेंटिग्स को स्थान मिला। इस पुस्तक में देशस्तर के नामचीन चित्रकार की पेंटिग्स को शामिल किया जाता है. उन्होंने बताया कि भारत के अलावा यूरोपियन कंट्री में दर्जन भर से अधिक स्थानों पर मिथिला पेंटिग्स की प्रदर्शन लगा चुकी है. उनके छोटे भाई प्रियंज समस्तीपुर में शिक्षण संस्थान चलाते हैं जहां समय-समय पर आकर बच्चों को मिथिला पेंटिग्स की जानकारी दी जाती है.