Breaking News

स्वर्णिम इंपैक्ट :: महज चार दिनों में टूटे नवनिर्मित पुलिये का हुआ पुन: निर्माण, 24 घंटे के भीतर ही खबर का दिखा असर

picsart_10-17-04-17-47-640x432दरभंगा : विगत 15 अक्टूबर को शीर्षक ‘महज चार दिनों में ही टूटा नवनिर्मित पुलिया, मुहल्लेवासी आक्रोशित’ से स्वर्णिम टाईम्स द्वारा प्रमुखता से प्रकाशित किया गया था.इस खबर को प्रकाशित हुए 24 घंटे भी नहीं बीते थे कि खबर का असर देखने को मिला.त्वरित कार्रवाई करते हुए इस टूटे नवनिर्मित पुलिया का पुन: निर्माण करवा दियागया.साथ ही ठेकेदार द्वारा इसे घेर दिया गया ताकि आवागमन शीघ्र शुरू नहीं हो और पुलिया तुरंत क्षतिग्रस्त नहीं हो.बता दें कि ठेकेदार द्वारा पुलिया 4 दिनों में टूटने का कारण आवागमन शुरू होना बताया गया था जिससे सीमेंट को जमने का समय नहीं मिल पाया.इसलिए इस बार पूर्ण सावधानी बरतते हुए घेरने के साथ साथ ठेकेदार द्वारा मोहल्लेवासियों से भी अपील की गई है कि कम से कम एक हफ्ते तक इस पुलिये पर आवागमन न करें.

गौरतलब है कि मदारपुर भगवती चौक से काली मंदिर गंगासागर जाने वाली सड़क राजकीय कल्याण छात्रावास के सामने में नाले पर बनी पुलिया का सिलाप महज चार दिनों में ही पूरी तरह टूट गया था.जिससे अंदाजा भी लगाया गया था कि इस पुलिया के नवनिर्माण में लगे छड़,बालू व सीमेंट की गुणवत्ता का.

मोहल्लेवासी काफी आक्रोशित होकर पूरा दोष ठेकेदार पर गढ़ते हुए कहे थे कि अपनी मोटी रकम बनाने हेतु घटिया मैटेरियल डाला जिससे यह पुलिया की दुर्दशा ऐसी हो गई.
वहीं ठेकेदार के अपने ऊपर लगे आरोप को नकारते हुए कहा था कि हमने पुलिया निर्माण कर मरम्मत कार्य पूरा किया.सीमेंट को जमने में समय लगता है परंतु बगल में दो दो विद्यालय होने के कारण लोगों ने निर्माण के दूसरे ही दिन से इस पुल पर से आवागमन शुरू कर दिया गया था.स्कूल वान हो या मोटरसाईकिल सबका नवनिर्मित पुलिये पर से गुजरने के कारण ही यह टूटा क्योंकि इसे जमने के लिए समय ही नहीं दिया गया.
वैसे उन्होंने भरोसा दिलाया था कि जल्द ही पुन: मरम्मत कार्य शुरू करूँगा. मगर इतना जल्दी की उम्मीद किसी को नहीं थी.खबर का असर ही है जो अधिकारियों से मिले आदेश पर ठेकेदार ने देर न की और पुलिया का नवनिर्माण शीघ्र ही हो गया.
मोहल्लेवासियों ने खबर को प्रमुखता से प्रकाशित करने और हुए त्वरित कार्रवाई के लिए स्वर्णिम टीम को धन्यवाद दिया है.

Check Also

LNMU :: हिंदी विभाग में नवचयनित सहायक प्राध्यापकों को किया गया सम्मानित

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट दरभंगा : ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग …