Breaking News

पंचायत रोजगार सेवक न्यूनतम दस घर का सर्वे अवश्य करेंगे : जिलाधिकारी !

दरभंगा। घर-घर बिजली योजना के सर्वे – कार्यों में गति लाने के उद्धेश्य से जिलाधिकारी डाॅ0 चन्द्रशेखर सिंह ने शुक्रवार को समाहरणालय अवस्थित बाबा साहेब डाॅ0 भीमराव अम्बेदकर सभागार में मनरेगा पदाधिकारियों व कर्मियों की एक बैठक की।
जिलाधिकारी डाॅ0 सिंह ने निदेशित करते हुए कहा कि सभी इन्दिरा आवास सहायक तथा पंचायत रोजगार सेवक अपने-अपने पंचायत में कल से न्यूनतम दस घर का सर्वे अवश्य करेंगे। जिले में कुल 534 इन्दिरा आवास सहायक तथा रोजगार सेवक हैं। इनके द्वारा प्रतिदिन दस घर की दर से कुल 5 हजार 340 घरो का सर्वे हो जाएगा। इस गति से यदि सर्वे चला तो ससमय सर्वे कार्य पूर्ण हो जाएगा। इस कार्य का पर्यवेक्षण मनरेगा के कनीय अभियंता व तकनीकी सहायक करेंगे, जो प्रतिदिन प्रोग्राम पदाधिकारी को प्रतिवेदन समर्पित करेंगे। प्रोग्राम पदाधिकारी को निदेश दिया गया कि वे इसकी समीक्षा कर प्रतिवेदन उसी शाम जिलाधिकारी के व्हाट्स एप् पर भेजेंगे। जिला स्तर पर इसकी साप्ताहिक समीक्षा की जाएगी।

मनरेगा के कार्यो की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने कम कार्य दिवस सृजित कराने वाले पदाधिकारी व कर्मियों के वेतन पर रोक लगाने का आदेश दिया। उन्होने हायाघाट के प्रोग्राम पदाधिकारी के वेतन में से 25 प्रतिशत कटौती का आदेश कम मेनडेज सृजित करने के विरूद्ध दिया। साथ ही जिले में 29 पंचायतों में शुन्य कार्य दिवस सृजित हुआ है। इसके लिए संबंधित रोजगार सेवक से स्पष्टीकरण पूछने तथा इनका वेतन रोकने का आदेश दिया गया।

Check Also

WIT दरभंगा बने देश का पहला महिला आईआईटी, वैज्ञानिक डॉ. मानस बिहारी वर्मा को दें सच्ची श्रद्धाजंलि – पुष्पम प्रिया चौधरी

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट : डब्ल्यूआईटी को देश का पहला महिला आईआईटी के …