Breaking News

बिहार : किउल रेलवे स्टेशन का पूछताछ केंद्र बन रहा हंसी मजाक की जगह ……. जरा ध्यान दीजिए सुरेश प्रभु जी।

img-20170110-wa0008लखीसराय : भारत में लगभग सभी रेलवे स्टेशनों की सूरत बदल चुकी है रेलवे विभाग लगातार कई नई योजनाओं को धरातल पर उतार रही है लेकिन बिहार के हाजीपुर जोन के दानापुर डिवीजन का सबसे महत्वपूर्ण स्टेशन किऊल की सूरत आज तक नहीं बदल पाई . अंग्रेजों के जमाने में बना पुल रेलवे अंडर ग्राउंड प्लेटफार्म स्टेशन काफी दयनीय स्थिति में है पूर्व बिहार का लाइफ लाइन कहे जाने वाले इस स्टेशन पर सुविधाओं का घोर अभाव है ही उसके बाद यहां पूछताछ केंद्र भी हसी मजाक की जगह बनी हुई है कंप्यूटरराईज्ड उद्घोषणा होने के बाद भी ट्रेन की सूचना माइक में ज्यादातर बोल कर ही दी जाती है चारों दिशाओं के ट्रेन यहां आती है जिसके कारण यात्रियों की भीड़ हमेशा लगी रहती है और पूछताछ केंद्र में यात्री अपने ट्रेनों की जानकारी लेते हैं यहां यात्रियों को हिंदी छोड़कर ठेठी भाषा में बोला जाता है कभी-कभी यात्रियों को डाटा भी जाता है तो कभी उल्टा पुल्टा जानकारी दे दी जाती है एक यात्री के मुताबिक हरिद्वार हावड़ा एक्सप्रेस वर्घमान में ठहराव है की नहीं पूछे जाने पर उसे गलत सूचना दे दी गई और वह ट्रेन में चढ़ के चला तो आसनसोल खुलने के बाद सीधे हावड़ा रुकी जिसके कारण उसे हावड़ा में जुर्माना देना पड़ा और काफी मुश्किलों का सामना भी करना पड़ा. दिए गए वीडियो में सब पता लग सकता है कि किउल में किस तरह  यात्रियों को सूचना दी जाती है रेल प्रशासन इसकी अनदेखी कर रही है पूछताछ के बगल में ही स्टेशन मैनेजर का कार्यालय है फिर भी इसकी अनदेखी हो रही है।

Check Also

अब पेट्रोल पंपों से भी मिलेगा “छोटू” सिलेंडर

– छोटे उपयोगकर्ताओं के लिए कम कम औपचारिकता का कनेक्शन– 5 किलो वाला एलपीजी सिलेंडर …