Breaking News

लखनऊ : डग्गामार, वाहन खुले आम दे रहे दुर्घटनाओ को दावत।

OverloadTruck-1482665735लखनऊ : पुलिसिया परमिट पर हो रहे डग्गामार वाहनों के संचालन से जहाँ यात्रियों की जान सांसत में पड़ी रहती है।वही आये दिन हो रही सड़क दुर्घटनाओं में भी इजाफा हो रहा है।जिससे क्षेत्रीय लोगों में आक्रोश ब्याप्त है। बीकेटी से चन्द्रिका देवी, बीकेटी से कुम्भरावा, छठा मील से रैथा, इटौजा से महोना, इटौजा से सैदापुर तक चलने वाले टैम्पो जहाँ ओवर लोड सवारियों को भरकर आवागमन कर रहे है।वहां स्थानीय पुलिस एवं परिवहन बिभाग के कर्मचारी इन डग्गामार वाहनों पर कार्यवायी के बजाय इनसे खुले आम अवैध वसूली कर रहे है। मालूम हो की उक्त वाहनों की जहाँ हालात जर्जर है, तो वही वही चालक अधिक चक्कर लगाने के लिए ओवरलोड यात्रियों को भर सड़कों पर एक दूसरे वाहनों को पीछे छोड़ आगे निकलने में लगे रहते है।जिसके चलते आये दिन वाहनों के दुर्घटनाग्रस्त होने के साथ ही दो पहिया यात्रियों सहित पैदल राहगीर वाहनों की चपेट में आकर घायल हो रहे है।लेकिन क्षेत्रीय पुलिस पूरी तरह से मौन है।तथा उसे क्षेत्र में सड़को अवैध रूप से मनमाने तरीके से फर्राटा भर रहे वाहनों की रफ्तार दिखाई नही पड रही है और यदि किसी ने वाहन चालकों से कुछ कहा तो वह लड़ाई झगड़े पर आमदा हो जाते है।और जब उनको कोई पुलिस की धमकी देता है तो वह ऐसे बात करते है कि जैसे पुलिस उनके घर की ही हो ।फिलहाल जो भी हो लेकिन पुलिसिया परमिट पर दौड़ रहे सैकड़ों डग्गामार वाहनों पर सख्ती से अंकुश नही लगाया गया तो दिन प्रतिदिन सड़क दुर्घटनाओं में बढ़ोत्तरी हो सकती है।क्षेत्रीय लोगों ने परिवहन बिभाग एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से क्षेत्र में कुकुरमुत्ते की तरह फैले डग्गामार वाहनों की मनमानी रफ्तार पर आँकुश लगाने की मांग की है।

Check Also

WIT दरभंगा बने देश का पहला महिला आईआईटी, वैज्ञानिक डॉ. मानस बिहारी वर्मा को दें सच्ची श्रद्धाजंलि – पुष्पम प्रिया चौधरी

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट : डब्ल्यूआईटी को देश का पहला महिला आईआईटी के …