Breaking News

उ०प्र० :: थम नहीं रहा पीली मिटटी का अवैध खनन

 उपजिलाधिकारी ज्योत्सना यादव के लाख प्रयासों के बावजूद भी बख्शी का तालाब तहसील के विभिन्न राजस्व गॉंवों में पीली मिट्टी का अवैध खनन थमने का नाम नहीं ले रहा है। स्थानीय पुलिस की सरपरस्ती में पीली मिट्टी का अवैध खनन रेलवे की रायल्टी के नाम पर  दिन दूनी रात चौगुना खुलेआम फलफूल रहा है।मड़ियांव व बीकेटी  थाने के कुछ पुलिसकर्मी इलाके में खनन माफियाओं से सांठगांठ कर रात में अवैध खनन कराकर अपनी जेबें भर रहे है।
          उपजिलाधिकारी बीकेटी ज्योत्सना यादव ने गत सप्ताह पूर्व में खनन की लगातार मिल रही शिकायतों के तहत अभी इलाके के कई राजस्व गॉंवों में अचानक छापेमारी कर हो रहे अवैध खनन को बंद कराकर लाखों रुपये की रॉयल्टी काटकर बीकेटी,गुड म्बा,जानकीपुरम व मड़ियांव थानों के थाना प्रभारियों को इलाके में खनन न  हो के कड़े निर्देश भी दे रखे हैं।बावजूद उसके इलाके के लेखपाल व स्थानीय थाने के पुलिसकर्मी खुलेआम रात में पीली मिट्टी का अवैध खनन कराकर अपनी जेबें भर कर सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की धज्जियां उड़ा रहे है ।रॉयल्टी के नाम पर खनन माफिया रॉयल्टी के मानक से ज्यादा मिटटी खनन स्थल से पुलिस एवं स्थानीय लेखपालों के संरक्षण में अधिक खोद रहे है।अगर रॉयल्टी जारी करने वाले सक्षम अधिकारी द्वारा खनन स्थल की जाच कर ली जाए तो रॉयल्टी के मानकों की पोल खुल जायेगी।तहसीलदार बीकेटी राजेश शुक्ला ने बताया कि अगर रॉयल्टी के मानक के बिपरीत खनन हो रहा है तो उक्त मामले की जांच कर कड़ी कार्यवायी की जायेगी।

Check Also

डॉ मशकूर उस्मानी ने निभाया वादा, अंजली बिटिया की पढ़ाई शुरू जाने लगी कांवेंट स्कूल

डेस्क : बीते माह जाले के ब्राह्मण टोली में रहने वाली चंचल झा नाम की …