दरभंगा : स्वास्थ्य विभाग की प्रमण्डलीय समीक्षात्मक बैठक की गई।

5

images2दरभंगा : आयुक्त आर0के0 खण्डेलवाल की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग की प्रमण्डलीय समीक्षात्मक बैठक प्रमण्डलीय सभागार में की गई।

 आयुक्त ने दरभंगा प्रमण्डल के सभी स्वास्थ्य केन्द्रों पर आवश्यक जीवन रक्षक दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित रखने का निदेश बैठक में दिया। संविदा पर रखे हुए कर्मियों के सेवा विस्तार के लंबित मामलों को अविलम्ब निपटाने का निदेश दिया। वैसे प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र जिनकी स्थिति मानक स्तर पर नही है, उनमें सुधार लाने का सख्त निदेश दिया। ओ0पी0डी0 में मरीजों के उपस्थिति की समीक्षा की गई। दरभंगा जिले में 64.77 प्रतिशत, मधुबनी में 65.66 प्रतिशत एवं समस्तीपुर जिला में 54.77 प्रतिशत मरीजों की उपस्थिति बतायी गई। संस्थागत प्रसव में दरभंगा जिला का प्रतिशत 53.44, मधुबनी जिला का प्रतिशत 55.15 एवं समस्तीपुर जिला का प्रतिशत 72.26 बताया गया। स्थिति में सुधार एवं नवजात बच्चों के मृत्यु दर में कमी लाने का निदेश आयुक्त महोदय द्वारा दिया गया। बिहार राज्य के कुछेक जिलों में दरभंगा जिला वैसा जिला है जहाँ विशेष रूप से शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, अलीनगर, चूनाभट्टी, उर्दू बाजार, खाजासराय, बिरौल में खोले गए है। जहाँ सरकार के द्वारा निर्धारित समय प्रातः 08:00 बजे से 12:00 बजे अपराह्न तक एवं संध्या 04:00 बजे से 06:00 बजे अपराह्न तक चिकित्सकों की उपस्थिति निर्धारित है। इन दो पालियों में आवश्यकतानुसार चिकित्सीय परामर्श लिया जा सकता है। आयुक्त ने तीनों जिला के सिविल सर्जन को ठण्ड से रक्षा हेतु आवश्यक दवाईयों का पर्याप्त भंडारण कर लेने का निदेश दिया।

उक्त बैठक में क्षेत्रीय निदेशक स्वास्थ्य, सिविल सर्जन गण, उप जन सम्पर्क निदेशक, दरभंगा प्रमण्डल, युनिसेफ एवं केयर के प्रतिनिधिगण एवं अन्य चिकित्सकीय प्रभारी उपस्थित थे।