Breaking News

सरावगी के छोटे भाई अजय सरावगी को मिली जमानत !

IMG-20160825-WA0024-300x160दरभंगा :  सूबे में शराबबंदी कानून के उल्लंघन के आरोप में गुरुवार की देर रात पकड़े गए दरभंगा के नगर विधायक संजय सरावगी के छोटे भाई अजय सरावगी व दो अन्य को शुक्रवार को दरभंगा सीजेएम कोर्ट ने जमानत दे दी। बताया गया है कि कोर्ट में इनकी ओर से दावा किया गया कि इन लोगों ने शराब नहीं पी बल्कि गुटखा खाया था। जमानत इसी आधार पर दी गई है। इसके साथ ही शराब पीने को लेकर हुई गिरफ्तारी भी चर्चा में आ गई है। उल्लेखनीय है कि उत्पाद विभाग की टीम ने गुरुवार की देर रात इन तीनों को एसी कार से पकड़ा था। तब कहा गया था कि विभाग की जांच में इन लोगों के शराब पीने की पुष्टि भी हुई थी। विभाग का दावा था कि गुरुवार की रात करीब दस बजे नगर थाने के हसनचक के पास से अजय सरावगी सहित तीन लोगों को एसी कार में शराब पीते गिरफ्तार किया।

तलाशी के दौरान कार से शराब की बोतलें व ग्लास बरामद किए गए। उत्पाद अधीक्षक दीनबंधु ने बताया कि उत्पाद विभाग की टीम ने शराब पी रहे तीनों लोगों की ब्रेथ एनालाइजर लगाकर जांच की। उत्पाद अधीक्षक ने ब्रेथ एनालाइजर से हुई जांच में तीनों के नशे में होने की पुष्टि होने की थी।

गिरफ्तार अन्य लोगों में समाहरणालय की विकास शाखा में सहायक के पद पर कार्यरत पंकज कुमार व एलआइसी एजेंट रीतेश कुमार गुप्ता भी शामिल हैं। इन तीनों को दस.दस हजार के मुचलके पर छोड़े जाने की सूचना है। इस संबंध में पूछे जाने पर विधायक संजय सरावगी ने कोई भी प्रतिक्रिया देने से इकार कर दिया। उधर इस संबंध में विधायक संजय सरावगी ने किसी प्रकार की टिप्पणी करने से इंकार किया।

Check Also

700 करोड़ का शराब घोटाला, उत्पाद विभाग का पूर्व सचिव बिहार से गिरफ्तार

  डेस्क। छत्तीसगढ़ पुलिस और बिहार पुलिस की एक संयुक्त टीम ने गुरुवार देर रात …

अब बिहार के 70 हजार सरकारी स्कूलों के बदलेंगे नाम, शिक्षा विभाग की बड़ी तैयारी

  डेस्क। बिहार में शिक्षा विभाग ने 70 हजार सरकारी स्कूलों का नाम बदलने की …

नहाय-खाय के साथ चैती छठ आज से शुरू, 15 अप्रैल को प्रातःकालीन अर्घ्य

डेस्क। रामनवमी से पहले आज यानी 12 अप्रैल से बिहार में आस्था का महापर्व चैती …