Breaking News

उ.प्र. :: मूर्ति विसर्जन के दौरान गोमती नदी में डूबे 5 बच्चे, एक की मौत

बीकेटी/लखनऊ (राज प्रताप सिंह) : लखनऊ के माल थाना क्षेत्र में दशहरा और विजय दशमी के दिन शनिवार को दुर्गा पूजा के बाद हवन सामग्री और मूर्ति विसर्जन करने गए श्रद्धालुओं की खुशियां अचानक मातम में बदल गईं। मूर्ति विसर्जन के दौरान गोमती नदी में अचानक 5 बच्चे डूब गए। इससे मौके पर कोहराम मच गया। लोगों ने बच्चों को बचाने का प्रयास किया। बताया जा रहा है कि हादसे के दौरान 4 बच्चों को बचा लिया गया। जबकि एक बच्चे की डूबकर मौत हो गई। घटना से घर में कोहराम मचा हुआ है। वहीं सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने मासूम का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।जानकारी के अनुशार  शनिवार को शहर और ग्रामीण इलाकों में सजे पंडालों में स्थापित माँ दुर्गा की प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। इसी क्रम के इटौंजा थाना क्षेत्र के कुछ श्रद्धालु बक्शी का तालाब स्थित मां चंद्रिका देवी धाम के पास स्थित गोमती नदी में विसर्जन करने गए थे। बताया जा रहा है कि माल थाना क्षेत्र के मांझीघाट के पास इटौंजा के कल्याणपुर गांव के रहने वाले लोग विसर्जन करने गए थे। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार 5 बच्चे नदी में तैरकर मूर्ति विसर्जन कर रहे थे। इस दौरान वह डूबने लगे। उन्हें डूबता देख मौके पर मुजूद अन्य लोगों ने उन्हें बचाने की कोशिश की। ग्रामीणों ने 4 बच्चों को जीवित बाहर निकाल लिया लेकिन 14 वर्षीय विमल कुमार की डूबने से मौत हो गई। इस घटना से ग्रामीणों में हड़कम मच गया। गांव की महिलाएं देवी मां के विसर्जन के लिए हवन पूजन का सामान लेकर नाचते गाते यमुना घाट पर गईं थीं। लेकिन इनको क्या मालूम था कि इनकी खुशियां थोड़ी देर में ही मातम में तब्दील होने जा रही हैं। बताया जा रहा है कि चार बच्चों की जान काफी जद्दोजहद के बाद बचाई जा सकी। फ़िलहाल पुलिस ने किशोर का शव कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज कर आगे की कार्रवाई पूरी की है।

Check Also

महारानी कल्याणी कॉलेज में राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस पर कार्यक्रम आयोजित

डेस्क : राष्ट्रीय सेवा योजना के महारानी कल्याणी महाविद्यालय की इकाई में आज राष्ट्रीय सेवा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *