Breaking News

नवरात्रि :: उपवास के दौरान कुट्टू के आटे का सेवन सात्विक भोजन – नैन्सी सिंह चौहान

लखनऊ (राज प्रताप सिंह) : नवरात्रि हिन्दुओं का प्रसिद्ध त्योहार है हर साल लोगों को बेसब्री से इस पर्व का इंतजार रहता है. नौ दिनों तक चलने वाले इस त्योहार को पूरे भारत में बहुत ही उल्लास के साथ मनाया जाता है. इस साल नवरात्रि का यह पावन पर्व 21 सितंबर से शुरू होकर 29 सिंतबर तक जारी रहेगा. इस दौरान जहां देवी दुर्गा का स्वागत किया जाता है वहीं देवी के भक्त नौ दिनों का उपवास करते हैं ताकि देवी का आशीर्वाद सदैव उनपर हमेशा बना रहे. नवरात्रि के दौरान लोग साधारण भोजन खाते हैं. जो लोग नवरात्रि का उपवास करते हैं. इस दौरान सिंघाड़े का आटे या फिर कुट्टू के आटे का सेवन करते हैं। कुट्टू के आटे को सात्विक भोजन माना जाता है.
सिंघाटे का आटा और कुट्टू का आटा गेंहू अनाज की श्रेणी में नहीं आते इसलिए व्रत में इसे खाने की सलाह दी जाती है
1.उपवास के दौरान, कुट्टू के आटे की पूरी और आलू की सब्जी के मिश्रण को सबसे अच्छा माना जाता है. लेकिन कुट्टू के आटे के सेवन से शरीर में गर्मी में उत्पन्न होती है इसलिए पूरियों को आप ठंडे दही के साथ खा सकते हैं.
2.कुट्टू का डोसा खाने में काफी क्रिस्पी होता है. इसमें आलू की फीलिंग की जाती है, और इसका बैटर अरबी और कुट्टू के आटे से तैयार किया जाता है. उपवास के दौरान आप डोसे को हरे धनिए की चटनी या फिर नारियल की चटनी के साथ खा सकते हैं
3.कुट्टू के आटे के साथ सिंघाड़े का आटा मिलाया जाता है जिसमें मैश की हुई अरबी मिलाकर परांठे तैयार किए जाते हैं. कुट्टू के आटे में काफी तेल लगता है इसलिए इसे बनाते वक्त आप इस बात का ख्याल रखें. परांठे को आप चटनी या दही के साथ सर्व करें.
4.इस नवरात्रि झटपट तैयार होने वाले फलहारी पकौड़े बनाकर आप अपने कुकिंग टैलेंट को दिखा सकते हैं. यह बाहर से काफी कुरकुरे होते हैं. इन्हें कुट्टू के आटे में जीरा और अनारदाना डालकर बनाया जाता है.
5.शकाहारी केले के कबाब जिसमें अदरक, हरी मिर्च, धनिया और इलाचयी का जबरदस्त स्वाद आता है. व्रत के दौरान एक कप चाय के साथ आप इस स्वादिष्ट स्नैक्स का मजा ले सकते हैं

Check Also

आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना एक दिवसीय कार्यशाला दरभंगा डीएमसीएच ऑडिटोरियम में आयोजित

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट : स्वास्थ्य विभाग, बिहार सरकार द्वारा निर्गत पत्र के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *