Breaking News

पंजाब :: युवाओं की उम्मीदों पर खड़ा नहीं उतरा रोजगार मेला।

संगरूर(महेश जिंदल):हर घर में सरकारी नौकरी का दावा करके सत्ता में आई कांग्रेस की सरकार के पांच माह के कार्यकाल के बाद भी
नौजवान सरकारी नौकरी को तरस रहे हैं। चुनावों से पहले बेशक नौजवानों से नौकरी के लिए आनलाइन रजिस्ट्रेशन भी करवाया गया, लेकिन अभी तक नौजवानों को नौकरी के नाम पर केवल खोखले वादे ही मिले हैं। हाथों में अपनी डिग्रियां लेकर नौजवान वर्ग दर-दर भटक रहा है, लेकिन इसके बावजूद नौकरी मिलती दिखाई नही दे रही है। पंजाब सरकार के आदेश पर जिला प्रशासन की ओर से रोजगार विभाग के साथ मिलकर स्थानीय रणबीर कॉलेज में जिला स्तरीय रोजगार मेले का आयोजन किया गया, जहां हजारों की तादाद में उच्च शिक्षा प्राप्त नौजवान रोजगार की तलाश में पहुंचे, लेकिन यहां पर भी उन्हें रोजगार के नाम पर केवल भरोसा ही मिला। प्लेसमेंट करने के लिए आई कंपनियों ने उनके बायो डाटा लेकर रख लिए और जल्द ही उन्हें फोन करके बुलाने का भरोसा दिलाकर वापस भेज दिया। रोजगार मेले में बेशक 5200 के करीब नौजवानों ने हिस्सा लिया, लेकिन केवल 1310 नौजवान आवेदकों को ही रोजगार के लिए चयनित किया गया।
डीसी ने किया उद्घाटन, नौजवानों को दिया दिलासा
रोजगार मेले का उद्घाटन डिप्टी कमिश्नर अमरप्रताप ¨सह विर्क ने किया। इस अवसर पर संबोधित करते हुए डीसी अमरप्रताप ¨सह ने बताया कि जिले के युवाओं को रोजगार मुहैया करवाने के उद्देश्य से 8 विभिन्न कंपनियों ने रोजगार मेले में शिरकत की। कंपनियों ने 1310 बेरोजगार युवाओं की नौकरी, सिखलाई व कर्जे संबंधी चयन किया। जिला रोजगार अफसर हरप्रीत कौर ने बताया कि अवानी टेक्सटाइल्स, अरिहंत स्पि¨नग मिल मालेरकोटला, केआरबीएल लिमिटेड धूरी, कोठारी ग्रुप ग्लेडरस कोआपरेटिव लिमिटेड, पंजाब स्किल डेवलपमेंट सेंटर, एलआइसी संगरूर, एलआईसी मालेरकोटला, एसबीआइ संगरूर व सेंटम ने भाग लिया। रोजगार विभाग की तरफ से काउंटर लगाकर रजिस्ट्रेशन की गई।

Check Also

अब पेट्रोल पंपों से भी मिलेगा “छोटू” सिलेंडर

– छोटे उपयोगकर्ताओं के लिए कम कम औपचारिकता का कनेक्शन– 5 किलो वाला एलपीजी सिलेंडर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *