Breaking News

बिहार :: आर्थिक तंगी से तंग आकर युवक ने की खुदकुशी

जयनगर/मो अली : जयनगर थाना क्षेत्र के बैरा पंचायत के परवा गांव में गुरूवार को आर्थिक तंगी से जुझ रहे विजय मंडल 26 वर्ष नामक युवक ने बगल के आम के पेड़ से फॉसी लगाकर आत्म हत्या कर ली। आत्म हत्या की खबर मिलने के पश्चात मौके पर पहुॅची पुलिस ने मृतक के परिजनो के आग्रह पर शव उनके हवाले कर दिया। तत्पश्चात उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। ग्रामीणो से प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक विजय मंडल अनुमंडल मुख्यालय स्थित एक होटल में थाली प्लेट धोने का कार्य करता था। जिससे प्राप्त होने वाली मामूली पारिश्रमिक से माता पिता पत्नी एंव दो बच्चो के भरण पोषण में काफी आर्थिक परेशानी होती थी। माता पिता व पत्नी अक्सर नही कमाने की शिकायत करती रहती थी। बताया जाता है कि बीती रात जयनगर से घर पहुॅचे विजय मंडल को पुनः घरवालो की शिकायत सुननी पड़ी। जिससे हताश होकर उसने बगल के आम के पेड़ में रस्सी व गमछा का फंदा बनाया और इसमें झूल गया। नतीजा उसकी मौत तत्काल हो गया। विजय की आत्म हत्या से परिजन हत प्रद रह गए। संवाददाताओ को मृतक के परिजनो से जो जानकारी मिली वह प्रशासनिक लापरवाही की जीवन्त प्रमाण के समान है। मृतक की पत्नी फुल कुमारी की माने तो अद्यतन विजय मंडल का नाम बीपीएल सुची तक में दर्ज नही हो सका। नतीजा उसे खाद्यान की बात तो दूर मिट्टी का तेल जनवितरण प्रणाली की दुकान से नही मिल रहा था। प्रशासनिक लापरवाही एंव निर्वाचित जनप्रतिनिधियो की असंवेदनशीलता का आलम यह है कि उसे इंदिरा आवास तो दूर मनरेगा का जॉब कार्ड तक नही मिला था। जिससे हताश , निराश विजय मंडल आत्म हत्या जैसा कदम उठाने पर विवश हो गया। आस पास के ग्रामीणो के अनुसार सरकार व प्रशासनिक अधिकारी विकास नाम का ढोल चाहे जितना पीट ले किन्तु सच्चाई यही है कि सामाजिक आर्थिक व शैक्षणिक रूप से पिछड़े विजय मंडल जैसे युवक को देखने वाला कोई नही है।

Check Also

डॉ मशकूर उस्मानी ने निभाया वादा, अंजली बिटिया की पढ़ाई शुरू जाने लगी कांवेंट स्कूल

डेस्क : बीते माह जाले के ब्राह्मण टोली में रहने वाली चंचल झा नाम की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *