Breaking News

बिहार :: जिला पदाधिकारी ने किया प्रखंड कार्यालय का औचक निरीक्षण

करपी प्रतिनिधि : जिला पदाधिकारी सतीश कुमार सिंह ने करपी प्रखंड कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। जिला पदाधिकारी ने बताया कि बिना सूचना के अनुपस्थित रहने वाले सीडीपीओ शबाना काश्फी, प्रखंड पशुपालन पदाधिकारी डॉक्टर चंदा, कनीय अभियंता पीएचईडी, कनीय अभियंता मनरेगा एवं रूपेश कुमार कनीय अभियंता विद्युत का वेतन अगले आदेश तक बंद करने का निर्देश दिया गया है। जिलाधिकारी ने प्रखंड विकास पदाधिकारी को आयुक्त के बैठक में शामिल नहीं होने पर गंभीरता से लेते हुए उन्हें आगे से इस पर ध्यान रखने का निर्देश दिया। जिला पदाधिकारी ने निर्देश दिया कि जो वार्ड खुले में शौच से मुक्त हो गया है उसके लाभुकों को 24 घंटे के अंदर 12000 रू की प्रोत्साहन राशि उनके बैंक खाते में स्थानांतरित की जाए। किंजर पंचायत के वार्ड नं0 02 एक महिना पूर्व ओडीएफ हो चुका है। लेकिन प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं ब्लॉक समन्वयक की लापरवाही के कारण लाभुको का भुगतान नहीं हुआ है। जिला पदाधिकारी इसे गंभीरता से लिया और निर्देश दिया कि 24 घंटे के अंदर उनके बैंक खाते में राशि उपलब्ध कराई जाए अन्यथा कार्रवाई की जाएगी। जीविका के बीपीएम जुली कुमारी को 16000 महिलाओं के घरो में शौचालय निर्माण हेतु तीन दिनों के अंदर लोन उपलब्ध कराने एवं 20 दिनों के अंदर जीविका के सभी महिलाओं के घरों में शौचालय का निर्माण सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया। जिला पदाधिकारी ने प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया कि विकास मित्रों, शिक्षको, सेविका एवं सहायिकाओं के घरों में शौचालय का निर्माण प्राथमिकता के अनुसार करें नहीं तो उनका वेतन मानदेय अगले माह से बंद किया जाएगा। बालू उठाव शुरू हो गया है। अतः शौचालय निर्माण में कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए। जिला पदाधिकारी ने वीडियो को निर्देश दिया कि जिन मतदान केन्द्रो पर लिंगानुपात कम है उसके बीएलओ, महिला सुपरवाइजर एवं विकास मित्रों को महिलाओं का नाम दर्ज करने के लिए निर्देश दें। नल जल एवं गली नली योजना को पूर्ण करने के लिए 23 अक्टुबर 2017 को सभी मुखिया वार्ड सदस्यों का प्रखंड में शिविर लगाने का निर्देश जिलाधिकारी ने दिया। सभी योजनाओं की सर्वप्रथम प्रशासनिक स्वीकृति दिया जाए एवं उसके बाद सभी वार्ड मेम्बर अध्यक्ष के खाते में उपयुक्त राशि को हस्तांतरित किया जाए। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया कि 10 विद्यालय, 10 आँगनबाड़ी केन्द्र की जाँच प्रतिवेदन के स्कूलों में चलने वाले मीड-डे-मील पर निगरानी रखने का निर्देश दिया गया। अंचल अधिकारी को प्रखंड क्षेत्र में चलने वाले ईंट भट्ठा की सूची दो दिनों उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया। नए बालू घाटो का प्रस्ताव देने का भी निर्देश दिया गया। थाना प्रभारी को निर्देश दिया गया कि चालान के माध्यम से हीं बालू का उठाव ढुलाई होना चाहिए। नहीं करने पर बालू के साथ गाड़ी को जप्त कर लेने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी के साथ जिला जन संपर्क पदाधिकारी सत्येन्द्र प्रसाद भी थे।

Check Also

आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना एक दिवसीय कार्यशाला दरभंगा डीएमसीएच ऑडिटोरियम में आयोजित

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट : स्वास्थ्य विभाग, बिहार सरकार द्वारा निर्गत पत्र के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *