Breaking News

बिहार :: डकैती के दौरान युवक को मारी गोली, पटना रेफर

10 लाख रूपये मूल्य के सामान की हुयी लूट

बिहारशरीफ। गिरियक थाना इलाके के केरुआ गाँव में बीती रात डकैती के दौरान डकैतों ने विरोध करने पर घर के एक युवक को गोली मार कर घायल कर दिया। इस दौरान डकैतों ने घर में रखे नगदी, जेवरात सहित करीब 10 लाख रुपए मूल्य के सामान को लूट लिया। घटना के बारे में घायल पप्पु खान ने कहा कि गाँव के सभी लोग एक बारात में शामिल होने के लिए बिहारशरीफ कृष्णा पैलेस गए हुए थे, इसी बीच 16 की संख्या में डकैतों ने डकैती के उद्देश्य से पप्पू खां के घर घुस गया और महिला सहित घर के सभी लोगों के हांथ पैर बाँध कर बंधक बनाने के बाद लूट पाट की। घटना को अंजाम देते हुए घर में रखे नगदी जेवरात सहित 10 लाख रुपए मूल्य के सामान को लूट कर फरार हो रहा था। इसी बीच किसी तरह पप्पू का बंधा हुआ हाथ खुल गया और वह डकैतों से भीड़ गया जिसके बाद डकैतों ने पकडे जाने के डर से पहले तो उसे गोली मारी फिर लोहे के रड से वार कर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया और घर से फरार हो गया। अपने भाई पप्पू खान को मार खाते देख उसकी बहन पिंकी खातून ने भी बीच बचाव किया तो डकैतों ने उसके सर पर भी बुरी तरह प्रहार करके जख्मी कर दिया। डकैतों ने दहशत फैलाने के लिए पप्पू खां को गोली मारने के बाद भागने के क्रम में गांव में दहशत फैलाने के उद्देश्य करीब 10 राउंड गोलियां चलाई। डकैतों ने लूटपाट के दौरान घर के सभी सदस्यों का मोबाइल अपने पास जप्त कर लिया था। डकैतों ने लूटपाट के दौरान सभी को अपने बंदूक की नांेक पर कर रखा था ताकि कोई भी किसी तरह का होशियारी ना कर सके। परिजनो का आरोप कि सूचना देने के बाद भी पुलिस ना तो गाँव पहुँची न ही सदर अस्पताल पहुँची। घायल युवक को इलाज के लिए बिहारशरीफ सदर अस्पताल लाया गया, जहाँ से उसकी गंभीर हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने पीएमसीएच रेफर कर दिया। इस घटना के बाद परिवार के सभी सदस्य काफी डरे सहमे हुए है। घर के सदस्य पिंकी खातून ने बताया कि उसका भाई अपनी खुद की ट्रक चलाता है और वह कभी कभार ट्रक से बालू ढोने का भी काम करता है लेकिन एक बात संदेह के घेरे मे है कि डकैतों ने डकैती के दौरान आखिर में ट्रक की किस्ती की मांग क्यों की इससे साफ तौर पर जाहिर होता है कि डकैती की योजना में शामिल सारे डकैत आसपास के ही है। फिलहाल घटना के बाद पुलिस उपाधीक्षक संजय कुमार गिरियक थानाध्यक्ष और पावापुरी ओपी थानाध्यक्ष घटनास्थल पर पहुंच कर मामले की छानबीन की और आसपास के इलाकों में पुलिस टीम के साथ छापेमारी भी की।

Check Also

16 सितम्बर से 18 सितम्बर तक विधि-व्यवस्था संधारण को लेकर जिला नियंत्रण कक्ष की हुई स्थापना

दरभंगा, विजय भारती :- जिला दण्डाधिकारी, दरभंगा राजीव रौशन एवं वरीय पुलिस अधीक्षक अवकाश कुमार …

Leave a Reply

Your email address will not be published.