Breaking News

बिहार :: नशे में धुत्त शराबी युवक को चप्पलों की माला पहनाकर ग्रामीणों ने पूरे गांव में घुमाया

हरलाखी/मधुबनी : राज्य में पूर्ण शराबबंदी है। बावजूद आएदिन शराब के नशे में धुत्त पियक्कड़ हुड़दंग मचाते देखने को मिल रहे हैं। पुलिस कार्रवाई भी कर रही है। लेकिन सीमावर्ती इलाकों में लोग आसानी से शराब पीकर उत्पात भी मचाते मिल जाएंगे। ज्यादातर मामले सीमावर्ती इलाकों में देखने को मिल रहे हैं। ऐसा ही एक मामला हरलाखी थाना क्षेत्र के उमगांव में सोमवार को देखने को मिला। सुबह सुबह ही आने घर से महज 2 किलोमीटर दूर नेपाल से शराब पीकर आए एक युवक गांव में हुड़दंग मचाना शुरू कर दिया। दरसल युवक को हुड़दंग मचाते देख ग्रामीणों ने उसे सबक सिखा दी। नशे में धुत्त शराबी युवक को चप्पलों की माला पहनाकर ग्रामीणों ने पूरे गांव में घुमा दिया। शराबी युवक की पहचान उमगांव के ही सूरज ठाकुर उर्फ सूरजा के रूप में बताई गई है। दरअसल शराबी युवक की रोजमर्रा की आदत से उसके घर के सदस्य भी आजिज चुके थे। ग्रामीणों ने बताया कि शराबी युवक आएदिन नेपाल के जटही से शराब पीकर आता है और अपने घर व टोले.मोहल्ले में हुड़दंग मचाता है। जिससे आस पास के इलाके में माहौल खराब होने लगा है। आस पास के बच्चे भी शराबी युवक को सबक सिखाने में पीछे नहीं रहे। यहां तक कि बच्चों ने नशे में धुत्त युवक को फ़ोटो खींचकर शोशल मीडिया में भी वायरल कर दिया। ग्रामीणों का कहना था यह रोज का हाल है। इसलिए ग्रामीणों को विवश होकर शराबी युवक के साथ इस तरह का व्यवहार करना पड़ा। हालांकि वह मजदूरी के कर दिन में 5 सौ से 1 हज़ार रुपये तक कमा लेता है। सारे पैसों को शराब पीने में उड़ा देता है। गौरतलब है कि राज्य में पूर्ण शराबबंदी के प्रभावी होने के दावे किए जाते हैं। लेकिन जमीनी हकीकत कुछ औऱ ही है। बॉर्डर इलाकों में लोग अब भी नेपाल जाकर आसानी से शराब पी लेते हैं। बॉर्डर इलाकों में आए दिन इस तरह का मामला देखने को मिलता है। हालांकि इस मामले में स्थानीय पुलिस व एसएसबी सहित उत्पाद विभाग की भी समय समय पर कार्रवाई करती है। हर रोज औसतन 1 सौ लीटर शराब व 1 या 2 लोग शराब मामले में जेल जा रहे हैं। इसके बावजूद भी बॉर्डर इलाकों में शराबबंदी के पूर्ण प्रभाव देखने को नहीं मिल रहें हैं। स्थानीय लोगों का मानना है कि सरकार और पुलिस इस मामले में कार्य तो कर रही है लेकिन लोगों में जागरूकता की कमी है। अब शराबियों को लज्जित कर सबक सिखाने से ही काम चलेगा।

Check Also

मनु महाराज केन्द्रीय प्रतिनियुक्ति पर ITBP के नये डीआईजी, 7 IAS और 5 IPS का तबादला संजय सिंह बने स्वास्थ्य विभाग के विशेष सचिव

डेस्क : भारतीय प्रशासनिक सेवा के 7 अधिकारी बदले गए हैं। वहीं दूसरी सेवाओं से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *