Breaking News

बिहार :: सीबीआई अदालत से फरार कुख्यात उदय मल्लाह चढ़ा पुलिस के हत्थे, केन बम हथियार व कारतूस बरामद

बिहारशरीफ : सीबीआई अदालत से फरार चल रहे कुख्यात अपराधी उदय कुमार उर्फ उदय मल्लाह को नालंदा पुलिस ने एसटीएफ के सहयोग से गिरफ्तार कर लिया। गया जिला का वर्ष 2003 को बहुचर्चित ई सत्येंद्र दुबे हत्याकांड़ का आरोपी था उदय मल्लाह। सीबीआई द्वारा उसे इंजीनियर हत्याकांड़ में पकड़ा गया था लेकिन वर्ष 2010 में वह फरार हो गया था। डकैती की घटना को अंजाम देने की कोशिश में लगा उदय के साथ चार अन्य सहयोगी भी पकड़ा गया। उनके पास से छह केन बम, दो देशी पिस्तौल, एक देशी कटटा, 14 जिंदा कारतूस, 4 मोबाईल बरामद किया गया।

  • सीबीआई अदालत से फरार कुख्यात उदय मल्लाह चढ़ा पुलिस के हत्थे
  • ई सत्येंद्र दुबे हत्याकांड का था मुख्य आरोपी
  • डकैती की योजना बनाते धराया
  • केन बम, हथियार व कारतूस बरामद

पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार पोरिका ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि नालंदा थाना के गजराज बिगहा में कुछ अपराधियों के द्वारा भीषण डकैती की घटना को अंजाम देने की कोशिश में लगे है। सूचना के सत्यापन के बाद अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी राजगीर के नेतृत्व में एसटीएफ पटना के पुलिस पदाधिकारी एवं नालंदा जिला बल के पुलिस पदाधिकारियों को शामिल कर छापेमारी की गयी। छापेमारी के दौरान पांच अपराधी पकड़े गये जबकि 4 से 5 अपराधी भागने में सफल रहा। पकड़े गये अभियुक्तों में उदय मल्लाह के अलावा दीपनगर थाना के सर्वोदयनगर निवासी राजीव कुमार, गया जिला के चंदौती थाना के कटारी हील निवासी टूटू कुमार, मो शहनशाह, छोटन कुमार शामिल है। उनके पास से आग्नेयास्त्र, केन बम, कारतूस, मोबाईल बरामद किया गया। पकडे गये अभियुक्तों ने डकैती की योजना को अंजाम देने की बात को स्वीकार किया। उन्होने बताया कि उदय मल्लाह पर गया जिला में आधा दर्जन से अधिक मामला विभिन्न थाना में दर्ज है। इसके अलावा टूटू पर भी कई मामले दर्ज है। उन्होने बताया कि इस संबंध में सीबीआई मुख्यालय को भी उदय मल्लाह के पकड़े जाने की सूचना दे दी गयी है। बरामद किये गये केन बम की एफएसएल जांच की बात कही। पुलिस अधीक्षक ने पकड़े गये अभियुक्तों के नक्सली संगठन पीएलएफआई से जुडे होने की संभावना से इंकार नहीं किया है। छापेमारी में एसटीएफ के इंस्पेक्टर सिंद्धू शेखर सिंह, अर्जुन लाल, विजय कुमार, गिरियक इंस्पेक्टर सुनील कुमार सिंह, नालंदा थानाध्यक्ष प्रभा कुमारी, मुकेश कुमार, पावापुरी थानाध्यक्ष शरद कुमार रंजन, कामेश्वरनारायण यादव, शंभू प्रसाद, सत्येंद्र सिंह आदि शामिल थें।

Check Also

हाजीपुर में सोना लूटकांड, महज 15 मिनट में करोड़ों की लूट CCTV का DVR भी लेकर फरार

सोना लूट कांड दोबारा इन हाजीपुर, देखें वीडियो… डेस्क : वैशाली जिले के हाजीपुर में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *